2008 से भी ज्यादा भयावह मंदी : क्रिस्टलालीना


नई दिल्ली (New Delhi) . अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष की प्रमुख क्रिस्टीना ने वा‎शिंगटन में ऑनलाइन प्रेस ब्रीफिंग के दौरान कहा कि संक्रमण से विभिन्न देशों में आर्थिक गतिविधियां बुरी तरह प्रभावित हुई हैं. दुनिया भर के देशों की आर्थिक गतिविधियां पूरी तरह से ठहर गई हैं.

उन्होंने कहा विकासशील देशों को 187 लाख करोड़ रुपए के आर्थिक मदद की जरूरत है. दुनिया भर के 80 से ज्यादा विकासशील देश अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष से आपात सहायता के लिए अनुरोध कर चुके हैं. उन्होंने कहा कि 2008 से भी ज्यादा भयानक मंदी आने वाली है, इसको ध्यान में रखा जाना चाहिए.

  आईपीएल वापसी का सबसे अच्छा तरीका : कमिंस

वर्तमान हालातों को देखते हुए वित्तीय विशेषज्ञों का मानना है ‎कि लगभग 150 वर्ष बाद भयानक मंदी सारी दुनिया के देशों में आएगी. इसके क्या परिणाम होंगे, अभी कहना मुश्किल है. लेकिन मंदी से निपटने के लिए सभी देशों को एकजुट होकर इसका मुकाबला करना होगा.

Please share this news