Monday , 28 September 2020

कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 15 लाख के पार, एक्टिव केस 5 लाख से ऊपर हुए


नई दिल्ली (New Delhi) . देश में मंगलवार (Tuesday) को कोरोना संक्रमण के 47,150 नए मामले मिलने के साथ ही पीड़ितों की संख्या बढ़कर 15,29,653 हो गई है. मंगलवार (Tuesday) को देश में पहली बार 5 लाख 20 हजार से ऊपर कोरोना टेस्ट हुए. सभी प्रमुख राज्यों में पहले की अपेक्षा अधिक टेस्ट होने के बाद जो तस्वीर सामने आ रही है उसे देखते हुए कहा जा सकता है कि जितने अधिक टेस्ट बढ़ेंगे मरीज मिलने का अनुपात उतना कम होगा, हालांकि मरीजों की संख्या बढ़ सकती है. देश में मंगलवार (Tuesday) तक 9,87,174 मरीज कोरोनावायरस से मुक्त हो चुके हैं. हालांकि 34,223 लोगों की मौत हो चुकी है इस प्रकार मौत के मामले में भारत अब दुनिया में छटवें नंबर पर पहुंच गया है. यद्यपि संक्रमण के मामले में भारत अमेरिका और ब्राजील के बाद तीसरे नंबर पर है.

लगातार 50 हजार के करीब संक्रमित मरीज मिलने से अब यह आशंका पैदा हो गई है कि आने वाले दिनों में भारत जल्द ही ब्राजील को पीछे छोड़ देगा, क्योंकि वहां नए संक्रमित मिलने की दर भारत की अपेक्षा कम है. भारत में रिकवरी रेट 64% हो चुका है. किंतु कुछ राज्यों में संक्रमण बड़ी तेजी से बढ़ रहा है. मंगलवार (Tuesday) को महाराष्ट्र (Maharashtra) में 7,117, तमिलनाडु में 6,272, दिल्ली में 1,056, आंध्रप्रदेश में 7,948, कर्नाटक (Karnataka) में 5,336, उत्तरप्रदेश (Uttar Pradesh) में 3,458, पश्चिम बंगाल (West Bengal) में 2,134, गुजरात में 1,108, बिहार (Bihar)में 2,480, राजस्थान (Rajasthan) में 1,072, ओडिशा में 1,215, केरल में 1,167 नए संक्रमित मरीज मिले. यह वे राज्य हैं जहां पर 1000 से ऊपर नए मरीज मिले हैं.

इसके अलावा मंगलवार (Tuesday) को हरियाणा (Haryana) में 749, मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) में 628, जम्मू और कश्मीर (Jammu and Kashmir) में 489, पंजाब (Punjab) में 609, छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) में 277, उत्तराखंड में 259, गोवा में 168, पुडुचेरी में 139 नए संक्रमित मरीज मिले. उत्तरप्रदेश (Uttar Pradesh) में प्रतिदिन एक लाख से ऊपर टेस्ट हो रहे हैं जो कि देश में सर्वाधिक है. बिहार (Bihar)में लगभग 15 हजार टेस्ट प्रतिदिन हो रहा है जो कि जनसंख्या के लिहाज से बेहद कम है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार (Monday) को कहा था कि देश में अगले कुछ सप्ताह के भीतर प्रति दस लाख कोरोना टेस्ट किए जाएंगे. इसके बाद स्थिति ज्यादा स्पष्ट होगी. फिलहाल कुछ राज्यों में नए संक्रमण में गिरावट देखने को मिली है. लेकिन विश्व स्वास्थ्य संगठन (World Health Organization) के मापदंडों के अनुसार भारत में फिलहाल कोरोनावायरस नियंत्रित नहीं है. विश्व स्वास्थ्य संगठन (World Health Organization) का कहना है कि प्रति 100 टेस्ट में पॉजिटिव मरीजों की संख्या 5 अथवा उससे नीचे होने पर ही माना जाता है कि देश में कोरोनावायरस नियंत्रित है. भारत में प्रत्येक 100 टेस्ट में 10 अथवा उससे ऊपर मरीज मिल रहे हैं जो चिंताजनक आंकड़ा है.

ज्ञात रहे कि मई माह में 28 तारीख को ही सरकार (Government) ने कोरोनावायरस प्रभावित मुंबई (Mumbai) , कोलकाता (Kolkata) , चेन्नई और दिल्ली सहित 13 शहरों के लिए संक्रमण रोकने हेतु विशेष रणनीति तैयार की थी. किंतु यह रणनीति दिल्ली को छोड़कर और कहीं कामयाब होती नहीं दिखाई दे रही है.

Please share this news