मौलाना साद यूट्यूब चैनल से देता है संदेश, पुलिस जांच में अहम खुलासा


नई दिल्ली (New Delhi) . दिल्ली पुलिस (Police) ने मौलाना साद का और मरकज के कामकाज का जो डोजियर बनाया है, उसके बारे में बड़ी जानकारी निकल कर सामने आई है. इसमें कानूनी तौर पर मौलाना के उत्तराधिकारी की बात कही गई है. इस जानकारी पर दिल्ली पुलिस (Police) क्राइम ब्रांच की नजर है. इसे देखते हुए कुछ लोगों से पूछताछ हो चुकी है जबकि कुछ लोगों से पूछताछ की तैयारी चल रही है. निज़ामुद्दीन मरकज में मौलाना मोहम्मद साद हर रोज जाता था. कानूनी तौर पर मौलाना के उत्तराधिकारियों में तीन लोगों के नाम हैं. ये तीनों उसके बेटे हैं.

मोहम्मद यूसुफ बड़ा बेटा है जो मरकज बस्ती में रहता है. दूसरे बेटे का नाम मोहम्मद सईद है जबकि तीसरा बेटा मोहम्मद इलियास है. ये दोनों भी मरकज बस्ती में ही रहते हैं. तीनों बेटों का आवास मरकज की छठी मंजिल पर है.मौलाना साद के रिश्तेदारों की भी जानकारी सामने आई है. ये वहीं रिश्तेदार हैं, जहां मौलाना साद के छुपे होने की आशंका है. रिश्तेदारों में मौलाना अब्दुल रहीम का नाम है जो अबु बकर मस्जिद के पास जाकिर नगर वेस्ट में रहता है. ये मरकज की प्रशासनिक कमेटी का सदस्य है. वही दूसरा रिश्तेदार हाजी मोहम्मद यूनुस है जो मुस्तफाबाद का निवासी है और मरकज के सिक्योरिटी और ट्रांसपोर्टेशन का हेड है. अन्य रिश्तेदारों में मौलाना मुफ़्ती शहजाद का नाम है जो जाकिर नगर का निवासी है. ये अभी क्वारनटीन में है और इसके खिलाफ भी एफआईआर (First Information Report) है.

  जुलाई तक 5.5 लाख कोरोना संक्रमित की आशंका उस वक़्त की स्थिति पर आधारित थी - सिसोदिया

क्राइम ब्रांच की टीम शहजाद से पूछताछ कर चुकी है.कुछ और भी लोग हैं जो मौलाना साद और मरकज़ से जुड़े हैं और ये सभी लोग क्राइम ब्रांच के रडार पर हैं. जानकारी के अनुसार मौलाना साद जमातियों के लिए और अपना प्रोपेगेंडा फैलाने के लिए बाकायदा Youtube चैनल चलाता है. मरकज़ की 6 मंजिला इमारत में बैठ कर मौलाना Youtube चैनल के जरिये हर रोज सुबह बयान देता है. उसके बाद मौलाना के बयान को Youtube में अपलोड किया जाता है. Youtube में अपलोड करने और एडिट करने के लिए बाकायदा 3 से 4 लोग काम करते हैं. मरकज़ का Youtube चैनल 1 जनवरी 2016 को शुरू किया गया था. जिसमें अब तक हजारों ऑडियो और वीडियो अपलोड किए जा चुके हैं. इन्ही ऑडियो-वीडियो और Youtube चैनल के जरिये मौलाना देश और विदेश में अपने कई फॉलोअर्स बना चुका है. फिलहाल मौलाना फरार है, लेकिन जहां वो छुपा है. अब भी वहां से उसका ‘आकाशवाणी केंद्र’ एक्टिव है और वो 3 ऑडियो जारी कर चुका है.

Please share this news