लॉकडाउन में समय बिताने की समस्या नहीं, बेटी की देखभाल में ही गुजर जाता है आधा समय : पुजारा


राजकोट . भारतीय बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा ने कहा कि लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान समय कैसे बीते, मैं इसको लेकर चिंतित नहीं हूं. उन्होंने कहा मेरा आधा समय तो बेटी की देखभाल में ही गुजर जाता है. कोरोना से लड़ने के लिए सरकार (Government) द्वारा लगाए गए 21 दिन के लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान पुजारा समेत सभी क्रिकेट खिलाड़ी अपने अपने तरीके से घर पर समय बिता रहे हैं.

  बांग्लादेश में जहरीली शराब पीने से 16 की मौत

पुजारा ने कहा मेरे लिए यह बदलाव स्वागत योग्य है. मैं इन दिनों खुद के साथ समय बिता रहा हूं. जब भी मैं अकेला होता हूं तो किताब पढ़ने और टीवी देखना पसंद करता हूं. उन्होंने कहा मेरी बेटी है, जो हमेशा ही खेलने के लिए काफी उत्साहित रहती है. मेरा अधिकतर समय तो बेटी की देखभाल में ही गुजर जाता है. मैं रोज के काम में पत्नी का हाथ भी बटा रहा हूं.

  लॉकडाउन 5 : राज्यों को ज्यादा अधिकार देगा केंद्र

पुजारा ने सभी देशवासियों से घरों में ही रहने की अपील की और कहा कि उन्हें किसी से भी हाथ नहीं मिलाना चाहिए. उन्होंने कहा न केवल हमारे देश के लिए बल्कि यह पूरी दुनिया के लिए एक मुश्किल समय है. हम केवल घर में रहकर ही बीमारी से लड़ सकते हैं.

Please share this news