Wednesday , 28 October 2020

अगस्त में 5000 भारतीयों पर होगा कोरोना वैक्सीन का ट्रायल


-इंडिया में दिसंबर तक एसआईआई तैयार करेगी 4 मिलियन खुराक

लंदन . ब्रिटेन के ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय के टीके की दो खुराक प्राप्त करने वाले लोगों ने सबसे मजबूत प्रतिक्रिया के साथ एंटीबॉडी और टी-सेल प्रतिरक्षा को लेकर सकारात्मक प्रतिक्रिया दी है. द लांसलर मेडिकल जर्नल में प्रकाशित परीक्षण के परिणामों के अनुसार ऑक्सफोर्ड और उसके एस्ट्राजेनेका द्वारा वैक्सीन के निर्माण के लिए दुनिया की सबसे बड़ी वैक्सीन निर्माता सीरम इंस्टीट्यूट आफ इंडिया (एसआईआई) को चुना गया है.

एसआईआई के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अदार पूनावाला ने कहा कि कोविशिल्ड पहली कोविड -19 वैक्सीन है, जिसे यूके और भारत दोनों में परीक्षण सफल होने पर उन्हें लॉन्च किए जाने की उम्मीद है. पूनावाला ने कहा कि कोविड -19 वैक्सीन उम्मीदवार के ट्रायल की शुरुआत अगस्त के अंत तक 5,000 भारतीय स्वयंसेवकों से की जाएगी और आवश्यक अनुमति मिलने के बाद अगले साल जून तक वैक्सीन को लॉन्च कर दिया जाएगा. अदार पूनावाला ने एक न्यूज चैनल को बताया कि हम मध्य-अगस्त में बड़े पैमाने पर विनिर्माण करेंगे. इस साल के अंत तक, हमें 3 से 4 मिलियन खुराक का उत्पादन करने में सक्षम है.

Please share this news