दर्द से परेशान गर्भवती को हेल्‍पलाइन से नहीं मिली मदद, फरिश्ता बनी दिल्ली पुलिस


नई दिल्ली (New Delhi) . कोरोना (Corona virus) के कारण दिल्ली सहित अन्य हिस्सों में लॉकडाउन (Lockdown) है. दिल्ली के बदरपुर इलाके में एक गर्भवती महिला को जब लेबर पेन हुआ तो उसके पति पंकज ने कई हेल्पलाइन नंबर पर फोन किया, लेकिन कहीं से कोई मदद नहीं मिली. इसके बाद पंकज ने दिल्ली पुलिस (Police) को फोन लगाया, जो महज 20 मिनट में मदद के लिए पहुंच गई. लॉकडाउन (Lockdown) में दिल्ली पुलिस (Police) ने एक गर्भवती महिला को सुरक्षित और समय से अस्पताल पहुंचाकर मिसाल कायम की.

  पौष्टिक आहार से बढ़ती है बच्चों की लंबाई

नवजात के पिता का कहना है कि मैंने 108,102,1031 पर फोन किया, लेकिन किसी ने फोन नहीं उठाया. फिर मैंने दिल्ली महिला पुलिस (Police) को फोन मिलाया और थोड़ी ही देर में उन्होंने गाड़ी भेज दी. नवजात बच्ची की मां का कहना है कि कोरोना (Corona virus) फैला हुआ है और दिल्ली पुलिस (Police) हमारे लिए फरिश्ता बनकर आई है. हम तहे दिल से उनका शुक्रिया अदा करना चाहते हैं. दिल्ली पुलिस (Police) का काम बहुत अच्छा है.

  मुंबई में कंटेनमेंट मुक्त इलाकों में बिकेगी शराब

अगर कोई बोलता है कि वो मदद नहीं कर रहे हैं तो ये गलत है इस मामले पर दिल्ली पुलिस (Police) के साउथ जोन पीसीआर इंचार्ज पूनम पारिक ने कहा कि हमारे स्टाफ ऐसी परिस्थितियों से निपटने में सक्षम हैं. उन्होंने गर्भवती महिले को लेबर पेन के दौरान समय पर अस्पताल पहुंचाया. हमनें अभी तक लगभग 155 ऐसी महिलाओं की मदद की है. लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान यह हमारी प्राथमिकता है.

Please share this news