गोपीचंद ने खिलाड़ियों के लिये साइ की आनलाइन कार्यशाला की प्रशंसा की


नई दिल्ली (New Delhi) . भारतीय बैडमिंटन कोच पुलेला गोपीचंद ने भारतीय खेल प्राधिकरण की आनलाइन कार्यशाला की प्रशंसा की.साइ द्वारा इसका आयोजन खिलाड़ियों को घर पर ट्रेनिंग जारी रखने के मकसद से किया जा रहा है जो इस समय कोविड-19 (Kovid-19) के कारण देश में लगे लॉकडाउन (Lockdown) के कारण बाहर अभ्यास नहीं कर पा रहे हैं. इसके शुरूआती दिन काफी खिलाड़ियों और कोचों ने आनलाइन सत्र का फायदा उठाया.

  धोखाधड़ी और फर्जी दस्तावेज पेश करने पर यूपी कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार को जेल भेजा

भारतीय खेल प्राधिकरण (साइ) की आनलाइन कार्यशाला के शुरूआत के सत्र में सभी खेलों के एथलीट और पैरा एथलीट उपस्थित थे जिसमें ओलंपिक संभावित निशानेबाज दिव्यांश पंवार, अपूर्वी चंदेला, अभिषेक वर्मा, अनीष भानवाला, मुक्केबाज लवलीना बोरगोहेन और निकहत जरीन के अलावा तैराक श्रीहरि नटराज शामिल थे. गोपीचंद ने अभियान की शुरूआत की प्रशंसा कर कहा,कोरोना (Corona virus) से उत्पन्न हुई इस परीक्षा की घड़ी में खुद को शारीरिक और मानसिक रूप से सक्रिय रखना तथा समय का बेहतर तरीके से इस्तेमाल करना काफी अहम है. ये आनलाइन सत्र निश्चित रूप से इसमें मदद करेगा.

  दुनिया के पांच बड़े शहद उत्पादक देशों में शामिल हुआ भारत : तोमर

मुख्य राष्ट्रीय कोच ने कहा, ‘‘खेलों में केवल प्रतिस्पर्धी होना ही काफी नहीं है बल्कि हमारे सामने जो चुनौतियां पेश की जाती हैं, हम सर्वश्रेष्ठ तरीके से इनका सामना कैसे करते हैं और आगे बढ़ते हैं, यह अहम होता है.वर्कशाप की 24 सीरीज का पहला सत्र फिजियोथेरेपिस्ट डा निखिल लाटे की बातचीत से शुरू हुआ जिसमें उन्होंने घर में ट्रेनिंग करने के बारे में बात की जिसे 8,000 से ज्यादा लोगों ने देखा. इसके बाद रेयान फर्नांडो ने सत्र में पोषण संबंधित जरूरतों पर बात की जिसे खिलाड़ियों, कोचों और फिटनेस के प्रति उत्साहित 15,000 लोगों ने देखा.

Please share this news