टिकटॉक वीडियो बनाते समय पांच किशोर की गंगा में डूबने से मौत


वाराणसी . वाराणसी में शुक्रवार (Friday) की सुबह बड़ा हादसा हो गया. गंगा उस पार रेत पर टिकटॉक वीडियो बनाते समय पांच किशोर गंगा में डूब गए. आसपास के लोग उन्हें बचाने दौड़े लेकिन सफल नहीं हो सके. करीब दो घंटे की मशक्कत के बाद पांचों का शव निकाला गया है.एक साथ एक ही मुहल्ले के पांच किशोरों की मौत से मुहल्ले में कोहराम मचा है. एसडीएम, सिटी मजिस्ट्रेट सहित तमाम अधिकारी मौके और अस्पताल पहुंचे हैं. बताया जाता है कि गंगा उस पार स्थित रामनगर वारीगढ़ही के पांच किशोर 19 वर्षीय तौसीफ पुत्र रफीक, 14 वर्षीय फरदीन पुत्र मुमताज, 15 वर्षीय शैफ पुत्र इकबाल, 15 वर्षीय रिजवान पुत्र शहीद और 14 वर्षीय सकी पुत्र गुड्डू सहित सात किशोर शुक्रवार (Friday) की सुबह करीब आठ बजे टिकटॉक का वीडियो बनाने गंगा किनारे पहुंचे थे.

  भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी पर ईडी का शिकंजा

दो किशोर किनारे बैठे रहे और बाकी पांच तौसीफ, फरदीन,शैफ, रिजवान और सकी टिकटॉक का वीडियो बनाने के लिए बीच गंगा में उभरी रेती तक पहुंच गए. वीडियो बनाने के दौरान एक किशोर डूबने लगा,तब दूसरा उस बचाने के लिए कूदा. देखते ही देखते एक दूसरे को बचाने के प्रयास में पांचों किशोर डूबने लगे.

  [देखने का भविष्य] ③ एक ऐसा आदर्श टीवी डिजाइन तैयार करना जो देखने और सुनने का सर्वोत्तम अनुभव दे

किनारे बैठे दोनों किशोरों का शोर सुनकर कुछ मल्लाह अपनी नावों को लेकर किशोरों को बचाने के लिए भागे. लेकिन उभरी हुई रेत के बीच से जब तक वहां पहुंचते तब तक पांचों पानी में विलीन हो चुके थे. तत्काल घटना की जानकारी पुलिस (Police) को दी गई. पुलिस (Police) के साथ ही रामनगर से आधा दर्जन गोताखोरों का दल मौके पर पहुंचा. दो घंटे की मशक्कत के बाद पांचों किशोरों को पानी से निकाला गया और एम्बुलेंस से लाल बहादुर शास्त्री अस्पताल पहुंचाया गया. यहां पांचों को मृत घोषित कर दिया गया.

Please share this news