चार कप से ज्यादा चाय दांतों और हड्डियों को कमजोर न बना दे


लंदन . एक निजी चाय कंपनी के अध्यन में सामने आया ‎कि ज्यादा चाय का सेवन करने से दांतों और हड्डियों कमजोर हो सकती हैं. अध्यन कर रहे विशेषज्ञों ने कहा कि टी बैग में अधिक मात्रा में फ्लूरॉयड होता है, जो दांतों और हड्डियों के लिए हानिकारक हो सकता है. विशेषज्ञों ने कहा कि अधिक मात्रा में फ्लूरॉयड के सेवन से फ्लूरोसिस बीमारी होना की आशंका रहती, जिसके कारण दांतों की ऊपरी परत क्षतिग्रस्त हो जाती है.

  बिना पासपोर्ट के यूपी के कामगारों को काम नहीं

हालांकि यह समस्या सस्ती चायपत्ती में हो सकती है, महंगी चायपत्ती में फ्लूरॉयड की मात्रा नियंत्रित रहती है. विशेषज्ञों ने कहा कि सस्ते टीबैग में फ्लूरॉयड की मात्रा छह गुना (guna) तक अधिक हो सकती है. अध्ययन में विशेषज्ञों ने कहा कि सस्ती चाय एक साल पुरानी पत्तियों से बनाई जाती है, जिसके कारण इसमें मिनरल अधिक मात्रा में होते हैं. इस शोध में कहा गया है कि अधिक मात्रा में फ्लूरॉयड के शरीर में पहुंचने से स्केलेटल फ्लूरोसिस की आशंका रहती है.

  हनुमान जी की तस्वीर दक्षिण दिशा की ओर लगायें

इसमें जोड़ों में कैल्शियम जमने लगता है वे अकड़ जाते हैं. विश्व स्वास्थ्य संगठन (World Health Organization) ने भी प्रतिदिन छह मिलीग्राम से अधिक मात्रा में फ्लेरॉयड शरीर में पहुंचने पर स्केलेटल फ्लूरोसिस होने की आशंका जताई है. इस हिसाब से देखा जाए तो एक दिन में चार कप से अधिक चाय पीना सेहत के लिए खतरनाक हो सकता है.

Please share this news