देवरिया में हड़कंप, सर्दी-जुकाम से ग्रस्त युवक कॉल की एंबुलेंस, कोरोना की अफवाह सुन रफूचक्कर हुआ ड्राइवर


देवरिया . कोरोना की दहशत इस हद तक बढ़ गई है कि अब लोग सर्दी जुकाम के नाम पर भी खौफ खा जाते हैं. देवरिया जनपद में भी उस समय हड़कंप मच गया जब एक युवक को सर्दी जुकाम से परेशान हुआ तो गांव के लोगों ने उसे कोरोना (Corona virus) होने का लक्षण होने का शोर मचा दिया.

जिससे गांव वालों ने पुलिस (Police) को सूचना दी, इस गांव में पहुंची पुलिस (Police) ने 108 नंबर पर फोन कर एंबुलेंस (Ambulances) को बुलाया. एंबुलेंस (Ambulances) जब नरियांव गांव पहुंचा तो चालक को लोगों ने बताया कि युवक कोरोना (Corona virus) से ग्रसित है. कोरोना से डरा एंबुलेंस (Ambulances) चालक बिना मरीज को लिए ही एंबुलेंस (Ambulances) लेकर चालक भाग गया. जिससे गांव में अफरा-तफरी मच गई है.

  नवाब मलिक ने कहा, महाराष्ट्र विकास आघाडी सरकार मजबूत और स्थिर

मालूम हो कि पूरा मामला भागलपुर ब्लॉक के नरियाव गांव का है. जहां पर एक युवक नेपाल में गन्ना मिल पर मजदूरी का कार्य करता है. उसे सर्दी जुकाम के लक्षण थे. उसके लिए उसने दवा ली थी लेकिन ठीक नहीं हुआ था. वहीं युवक 17 मार्च को पीएचसी से सर्दी व खांसी की दवा भी लाया था. कई दिन बीत जाने पर युवक नहीं ठीक हुआ तो गांव वालों ने कोरोना (Corona virus) होने की अफवाह फैला दी. जिससे बिना मरीज को लिए एंबुलेंस (Ambulances) लेकर चालक भाग गया.

  लॉकडाउन 4.0 में छूट ने बढ़ाया संकट, मरीज सवा लाख पार, फैल चुका है कम्युनिटी संक्रमण

भागलपुर के प्रभारी चिकित्सा अधिकारी रंजीत कुमार कुशवाहा ने बताया कि घर पर टीम भेजी गई थी. कोरोना का कोई लक्षण नहीं पाया गया है. एसओ रवींद्र कुमार रवि उसके गांव पहुंचे लेकिन वायरस की डर से दूरी बनाते हुए वे भी मरीज को अपनी गाड़ी से अस्पताल नहीं भिजवा सके. पुलिस (Police) ने प्राइवेट गाड़ी से अस्पताल पहुंचाने का प्रयास किया पर कोई तैयार नहीं हुआ.

Please share this news