भारत के बाद अब चीन ने ठुकराया ट्रंप का मध्यस्थता करने का प्रस्ताव


नई दिल्ली (New Delhi) . भारत और चीन के बीच जारी तनाव पर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने मध्यस्थता करने का प्रस्ताव रखा है. भारत की ओर से पहले इस ठुकरा दिया गया है, और अब चीन ने भी इसपर बयान दिया है. चीनी विदेश मंत्रालय की ओर से कहा गया है कि भारत और चीन आपस में किसी भी विवाद को हल कर सकते हैं. चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा है कि भारत और चीन किसी भी आपसी विवाद को बातचीत के दमपर हल कर सकते हैं.इसके बाद किसी तीसरे देश की इस विवाद में जरूरत नहीं है. ट्रंप ने पहले ट्वीट किया था कि भारत और चीन अगर चाहें,तब अमेरिका दोनों के बॉर्डर विवाद को खत्म करा आपसी सुलह करवा सकता है. इसके अलावा हाल ही में ट्रंप ने कहा कि पीएम मोदी चीन से जारी विवाद पर अच्छे मूड में नहीं हैं.

  टिक टॉक भी करेगा चीन का बहिष्कार

हालांकि, भारत की ओर से ट्रंप के प्रस्ताव को ठुकराते हुए कहा कि वह अपने द्विपक्षीय मसले को खुद ही चीन के साथ सुलझा सकता है. विदेश मंत्रालय ने कहा कि भारत-चीन आपसी बातचीत से इसका हल निकाल रहे हैं. बता दें कि मई महीने की शुरुआत से ही लद्दाख में भारत और चीन के सैनिक आमने-सामने हैं. चीन की ओर से पहले यहां घुसपैठ की कोशिश की गई, जिसके बाद दोनों देशों के सैनिकों में झड़प हुई और हाथापाई तक नौबत पहुंच गई. इसके अलावा चीन की ओर से लद्दाख के पास सैनिकों की संख्या बढ़ाकर 5000 के करीब कर दी गई, तभी से दोनों देशों में तनाव जारी है, जवाब में भारत ने अभी लद्दाख में सैनिकों की संख्या को बढ़ाया है और कदम पीछे ना हटने की बात कही है.

Please share this news