स्मार्टसिटी कंपनी पर NGT के आदेश का असर नहीं, ADB प्रोजेक्टों में धडल्ले से निर्माण कार्य जारी


भोपाल (Bhopal) . राजधानी में स्मार्ट सिटी कंपनी पर नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल (एनजीटी) के आदेश का भी असर नहीं दिखाई दे रहा है. एनजीटी के रोक के बावजूद बुधवार (Wednesday) को स्मार्ट सिटी कंपनी द्वारा एरिया बेस्ड डेवलवमेंट (एबीडी) प्रोजेक्टों में निर्माण कार्य जारी रहा. बता दें कि एनजीटी ने स्मार्ट सिटी कंपनी के निर्माण कार्यों पर लगाई रोक को यथावत रखने का निर्णय मंगलवार (Tuesday) को लिया था. टीटी नगर क्षेत्र के व्यापारी के मुताबिक, स्मार्ट सिटी कंपनी द्वारा एनजीटी के आदेश की लगातार अवहेलना की जा रही है. बीते 25 फरवरी को एनजीटी ने ग्रीन एंड ग्रीन लायर्स संस्था की याचिका पर सुनवाई करते हुए यथास्थिति रखने (कार्य पर रोक) का आदेश दिया था. इसके बाद भी स्मार्ट सिटी कंपनी द्वारा निर्माण कार्य किया जा रहा है.

  कर्नाटक के बाद कांग्रेस अध्यक्ष के खिलाफ बिहार में एफआईआर

नवदुनिया ने मौके पर पाया कि स्मार्ट सिटी के कई प्रोजेक्टों पर निर्माण कार्य जारी है. मामले पर स्मार्ट सिटी कंपनी के सीईओ दीपक सिंह ने एनजीटी के निर्देशों का पालन करने का दावा किया है. गवर्मेंट हाउसिंग प्रोजेक्ट में निर्माण कार्य बुधवार (Wednesday) को जारी रहा. दोपहर करीब 1 बजे बहुमंजिला इमारत के निर्माण कार्य के लिए बेस तैयार किया जा रहा था. लोहे के सरियों के जाल पर कंक्रीट बिछाई जा रही थी. इसके अलावा जेसीबी मशीनों से खुदाई भी जारी मिली. एनजीटी ने जिस प्रोजेक्ट पर ग्रीन एरिया को लेकर आपत्ति जताई उसी पर काम जारी है. दरअसल, टीटी नगर स्थिति दशहरा मैदान का री-डेवलपमेंट का काम किया जा रहा है. यहां मशीनों से खुदाई की जा रही थी. इसके अलावा 50 से ज्यादा मजदूरों द्वारा काम किया जा रहा था.

  गुजरात में 363 नए केसों के साथ कोरोना का आंकड़ा 13000 को पार

टीटी नगर स्थिति स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के हॉट बाजार में भी काम जारी रहा. यहां जमीन को खोदकर बेस तैयार कर लिया गया है. मशीनों से पिलर का काम किया जा रहा है. पार्किंग के लिए भी निर्माण कार्य में अधिकारी जूटे दिखाई दिए. टीटी नगर स्टेडियम के सामने, माता मंदिर रोड पर भी स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत डक्ट बनाने के लिए मशीनों से काम जारी रहा. खुदाई के स्थान पर कंक्रीट बिछाने का काम किया जा रहा है. स्मार्ट सिटी कंपनी ने एबीडी प्रोजेक्ट के तहत टीटी नगर व दशहरा मैदान को ग्रीन एरिया दर्शाया था. इस मामले को लेकर ग्रीन एंड ग्रीन लॉयर संस्था ने एनजीटी में शिकायत दर्ज कराई थी.

  गौतम नवलखा की अंतरिम जमानत की अर्जी पर हाई कोर्ट ने राष्ट्रीय जांच एजेंसी से मांगा जवाब

इस पर एनजीटी ने कड़ी आपत्ति लेते हुए निर्माण कार्य को यथास्थिति रखने का आदेश दिया था. यह सुनवाई बीते 25 फरवरी को हुई थी. इसके बाद मामले पर बीते 17 मार्च को सुनवाई हुई. एनजीटी ने निर्माण कार्य पर रोक के निर्देश को जारी रखा. मामले पर अगली सुनवाई 17 अप्रैल को होगी. पलाश मार्केट के एक दुकानदार मुकेश शर्मा का कहना है कि एनजीटी के आदेश का स्मार्ट सिटी पर कोई असर नहीं है. यहां निर्माण कार्य जारी है. हम इसकी शिकायत करेंगे. इस बारे में श्याम गप्ता का कहना है कि आदेश के बाद अधिकारियों से पूछा तो कहा गया आप अपना काम करो. स्मार्ट सिटी के नाम पर व्यापारियों के साथ कोर्ट को भी धोखा दिया जा रहा है.

Please share this news