Wednesday , 28 October 2020

बॉयफ्रेंड से झगड़ा होने पर युवती ने रचा ड्रामा, पुलिस हुई परेशान


नई दिल्ली (New Delhi) . राजधानी दिल्ली में चौंकाने वाला मामला सामने आया है, जिसमें उलझकर दिल्ली पुलिस (Police) की रातों की नींद उड़ गई. जब इसकी सच्चाई सामने आई तो उसने राहत की सांस ली. दरअसल, पुलिस (Police) पूछताछ में पता चला है कि कुछ पहले ही ब्वॉयफ्रेंड के साथ हुए विवाद को छिपाने के लिए इस युवती ने चलती बस में दुष्कर्म की कोशिश की शिकायत पुलिस (Police) में दर्ज कराई थी. दक्षिण पूर्वी दिल्ली पुलिस (Police) ने युवती के भविष्य को देखते हुए चेतावनी देकर छोड़ दिया है. जैसे ही युवती के साथ बस में सामूहिक दुष्कर्म की कोशिश का मामला सामने आया तो पुलिस (Police) के होश उड़ गए.

मामला युवती के साथ सामूहिक दुष्कर्म का था, इसलिए दिल्ली पुलिस (Police) भी सकते में आ गई. दिल्ली पुलिस (Police) के आलाधिकारियों ने तत्काल इस दिशा में बड़ा कदम उठाते हुए युवती की शिकायत के मुताबिक, पुलिस (Police) की टीमों को जांच में लगा दिया गया. जांच में जुटी पुलिस (Police) को हर मोड़ पर निराशा हाथ लग रही थी. पुलिस (Police) से मिली जानकारी के मुताबिक, एक सप्ताह पहले ही इस बाबत शिकायत मिली थी कि बदरपुर से नेहरू प्लेस के बीच चलने वाली एक बस में युवती के साथ चार युवकों ने दुष्कर्म करने का प्रयास किया.

बताया गया है कि दरिंदगी से बचने के लिए युवती गोविंदपुरी के आसपास बस से कूद गई. इससे युवती को चोट आई है. शिकायत पर युवती की चोट का मेडिकल कराने के बाद पुलिस (Police) की 20 टीमें युवती के बताए मार्ग पर लगे सीसीटीवी फुटेज खंगालने में जुट गई. जांच मे सामने आया कि युवती के बताए गए मार्ग पर बस गई ही नहीं. सख्ती से पूछताछ में सच्चाई सामने आ गई.

युवती ने मजिस्ट्रेट के सामने अपना बयान दिया कि उसका बदरपुर में अपने ब्वॉयफ्रेंड के साथ झगड़ा हुआ था, जिसके चलते उसे चोट लग गई. इसके बाद नेहरू प्लेस स्थित अपने कार्यालय पहुंची, जहा झगड़े की बात को छिपाने के लिए उसने झूठी कहानी रची. बता दें कि दक्षिण दिल्ली के ही वसंत विहार इलाके में 16 दिसंबर, 2012 को निर्भया के साथ सामूहिक दुष्कर्म और हत्या (Murder) की घटना हुई थी, जिसके दोषियों को इसी साल 20 मार्च को फांसी पर लटकाया गया है.

Please share this news