Wednesday , 28 October 2020

अशोक गहलोत ने दोहराया हमारे पास बहुमत


जयपुर (jaipur) . राजस्थान (Rajasthan) के मुख्यमंत्री (Chief Minister) अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने भरोसा जताया है कि उनके पास बहुमत है. मुख्यमंत्री (Chief Minister) ने संवाददाताओं से कहा, ‘हम जल्द ही विधानसभा सत्र बुलाएंगे. हमारे पास बहुमत है. सभी कांग्रेस विधायक एकजुट हैं.’ अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) का बयान राजस्थान (Rajasthan) हाईकोर्ट के फैसले से ठीक एक दिन पहले आया है. सचिन पायलट कैंप की ओर से उन्‍हें विधानसभा सदस्‍यता से अयोग्‍य ठहराने को चुनौती देने वाली याचिका पर शुक्रवार (Friday) सुबह राजस्थान (Rajasthan) हाईकोर्ट का फैसला आएगा.

कोर्ट में सचिन पायलट की ओर से वकील हरीश साल्वे ने गुरुवार (Thursday) को कहा कि सदन से बाहर हुई कार्यवाही के लिये अध्यक्ष नोटिस जारी नहीं कर सकते और नोटिस की संवैधानिक वैधता नहीं है. राजस्‍थान (Rajasthan)में सियासी संकट उस समय शुरू हुआ जब सचिन पायलट और उनके खेमे के 20 से अधिक विधायकों ने सीएम अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) के खिलाफ बागी तेवर अपना लिए थे. इसके बाद पायलट के प्रति सख्‍त रुख अपनाते हुए कांग्रेस ने उन्‍हें उप मुख्‍यमंत्री और राज्‍य कांग्रेस अध्‍यक्ष के पद से बर्खास्‍त कर दिया था. उनके दो विश्‍वस्‍तों को भी मंत्री पद से हटा दिया गया था.

इस बीच, राजस्थान (Rajasthan) सियासी संकट मामले में राजस्थान (Rajasthan) हाईकोर्ट के आदेश के खिलाफ स्पीकर सीपी जोशी की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट (Supreme court) में सुनवाई हुई.इस मामले में सुप्रीम कोर्ट (Supreme court) ने हाईकोर्ट के फैसले पर रोक लगाने से इनकार किया, लेकिन कहा कि हाईकोर्ट का फैसला सुप्रीम कोर्ट (Supreme court) के फैसले के अधीन होगा. सुप्रीम कोर्ट (Supreme court) सोमवार (Monday) को इस बाबत सुनवाई करेगा कि हाईकोर्ट स्पीकर के नोटिस के खिलाफ दायर याचिका पर सुनवाई कर सकता है या नहीं.

Please share this news