ठीक से राशन वितरण न करने पर भाजपा संसद ने तहसीलदार को पीटा


कानपुर (Kanpur) . उत्‍तरप्रदेश के कन्नौज जिले में लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान कथित तौर पर ठीक से राशन वितरण न करने पर भाजपा सांसद (Member of parliament) सुब्रत पाठक ने समर्थकों के साथ एक तहसीलदार को पीट दिया. इसमें तहसीलदार को चोटें आईं. सांसद (Member of parliament) सुब्रत पाठक का दावा है कि वह किसी के घर नहीं गए थे. उन्होंने आरोप लगाया कि तहसीलदार शराब पीते हैं और फोन पर उनसे गाली-गलौज भी किया. साथ ही दो समर्थकों को डंडे से भी पीटा.

  उदयपुर से बसों द्वारा कोटा गये छत्तीसगढ़ के 350 प्रवासी, वहां से रेल द्वारा जाएंगे छत्तीसगढ़

सूत्रों के मुताबिक, कन्नौज में लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान सांसद (Member of parliament) सुब्रत पाठक के दफ्तर से गरीबों के लिए खाने के पैकेट बांटे जा रहे थे. इसके अलावा शिकायतें भी दर्ज की जा रही थीं. दफ्तर में कई लोगों ने राशन न मिलने की शिकायतें भी दर्ज कराई थीं. इसकी सूची कन्नौज सदर तहसील के तहसीलदार अरविंद कुमार को सौंपी गई थी. आरोप है कि कोई सुनवाई न होने पर सांसद (Member of parliament) भड़क गए और मंगलवार (Tuesday) दोपहर फोन पर तहसीलदार से बात की. इस दौरान दोनों पक्षों में गर्मागर्म बहस हुई.

  गणेश पूजा से पहले कलाकारों को राहत, एक साल के लिए हटाई गई पीओपी पर रोक

तहसीलदार का आरोप है कि इसके बाद सांसद (Member of parliament) अपने कई समर्थकों के साथ कथित तौर पर उनके (तहसीलदार) सरकारी आवास पर पहुंचे. वहां दोनों पक्षों में गाली गलौज के बाद मारपीट हुई. इसमें तहसीलदार को कुछ चोटें भी आईं. इसकी सूचना वरिष्ठ अधिकारियों को दी गई. कुछ घंटे बाद तहसीलदार का मेडिकल परीक्षण कराया गया.

Please share this news