एचडीएफसी बैंक द्वारा वीडियो केवाईसी सुविधा लॉन्च

उदयपुर (Udaipur). एचडीएफसी बैंक (Bank) ने वीडियो केवाईसी (नो योर कस्टमर) सेवा लॉन्च की. पायलट प्रोजेक्ट सफलतापूर्वक पूरा हो जाने के बाद एचडीएफसी बैंक (Bank) ने अनुमति-आधारित वीडियो केवाईसी सुविधा स्थापित कर दी. यह सुविधा सतर्क व सुरक्षित वातावरण में खाता खुलवाने की प्रक्रिया के दौरान ग्राहक की पहचान सुनिश्चित करने की वैकल्पिक विधि प्रदान करेगी.

एचडीएफसी बैंक (Bank) में ग्रुप हेड-रिटेल ब्रांच बैंकिंग अरविंद वोहरा ने कहा कि वीडियो केवाईसी की सेवा एक एजाईल पॉड्स (चुस्त समूह) का परिणाम है, जिसमें ब्रांच बैंकिंग, डिजिटल बैंकिंग एवं रिटेल एस्सेट की टीमें मिलकर काम करेंगी. बैंक (Bank) में ग्राहकों के लिए नए उत्पादों व सेवाओं के लिए अनेक एजाईल पॉड्स काम कर रहे हैं. यह बैंक (Bank) में सामरिक परियोजनाओं के लिए विभिन्न टीमों की क्षमता व योग्यता का उपयोग करने के वन बैंक (Bank) विजन के अनुरूप है. वीडियो केवाईसी की सुविधा अभी बचत एवं निगम वेतन खातों तथा व्यक्तिगत ऋण के लिए शुरू की गई है तथा अन्य उत्पादों के लिए इसे चरणबद्ध रूप से शुरू किया जाएगा. आरबीआई (Reserve Bank of India) के दिशानिर्देशों के अनुरूप वीडियो केवाईसी, ग्राहक की पूर्ण केवाईसी कराने के समतुल्य है और वीडियो केवाईसी कराने के बाद ग्राहक सभी वित्तीय/केवाईसी उत्पाद पा सकता है. यह सेवा कार्यालयीन दिनों में सुबह 10 बजे से शाम 6 बजे तक उपलब्ध रहेगी.

ग्राहक अपने घर या ऑफिस में बैठे हुए भी कुछ ही मिनटों में फुल केवाईसी ऑल बेनेफिट्स अकाउंट खुलवा बैंक (Bank) के विश्वस्तरीय उत्पादों व सेवाओं का लाभ ले सकते हैं. वीडियो केवाईसी की प्रक्रिया ऑनलाईन, तीव्र व सुरक्षित है. यह पेपरलेस, कॉन्टैक्टलेस है. बैंक (Bank) के अधिकारी एवं ग्राहक के बीच का संवाद रिकॉर्ड होता है. वीडियो केवाईसी के लिए जरूरी है, बैंक (Bank) आवेदन में संपूर्ण आधार ओटीपी-आधारित ईकेवाईसी, पैन कार्ड की मूल प्रति हाथ में होना, वीडियो केवाईसी करवाते वक्त भारत में मौजूद रहना जरूरी एवं अच्छी डेटा कनेक्टिविटी के साथ एक स्मार्टफोन होना.

ग्राहक द्वारा बैंक (Bank) की वेबसाईट/प्लेस्टोर पर इंस्टा अकाउंट ओपनिंग ऐप द्वारा अपना आधार ईकेवाईसी पूरा कर लेने के बाद, उसे बैंक (Bank) के अधिकारी से जोड़ा जाता है, जो वीडियो केवाईसी की प्रक्रिया पूरी करता है. आमतौर पर वीडियो केवाईसी में बैंक (Bank) का अधिकारी ग्राहक की जानकारी की पुष्टि करता है, ग्राहक का फोटो खींचता है, ग्राहक के पैनकार्ड की फोटो लेता है एवं खाता सक्रिय किए जाने से पहले वीडियो केवाईसी के ऑडियो-वीडियो संवाद का सत्यापन किया जाता है.

 

Please share this news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *