केंद्रीय मंत्री ‘निशंक’ ने ओडिशा केंद्रीय विश्वविद्यालय हेल्पलाइन “भरोसा” की शुरूआत की


नई दिल्ली (New Delhi) . केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री, रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ ने आज नई दिल्ली (New Delhi) में एक आभासी मंच के माध्यम से ओडिशा केंद्रीय विश्वविद्यालय (सीयूओ) हेल्पलाइन “भरोसा” और इसका हेल्पलाइन नंबर 08046801010 का शुभारंभ किया, जिसका उद्देश्य कोविड-19 (Kovid-19) महामारी (Epidemic) के कठिन समय के दौरान छात्र (student) समुदाय की परेशानियों को दूर करना है. इस हेल्पलाइन का उद्देश्य ओडिशा के सभी विश्वविद्यालयों के छात्रों को संज्ञानात्मक भावनात्मक पुनर्वास सेवाएं प्रदान करना है. इस अवसर पर ओडिशा राज्य मंत्री, उच्च शिक्षा विभाग, ओडिशा सरकार, डॉ अरुण कुमार साहू भी उपस्थित थे. कार्यक्रम का समन्वय ओडिशा केंद्रीय विश्वविद्यालय के कुलपति, प्रो. आई रामाब्रह्मम द्वारा किया गया.

  कर्नाटक में कोरोना वायरस संक्रमण के 196 नए मामले

मंत्री रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ ने कहा कि कोविड-19 (Kovid-19) महामारी (Epidemic) के घातक संक्रमण के कारण देश कठिन दौर से गुजर रहा है और उन्होंने भारत के प्रधानमंत्री, नरेंद्र मोदी के प्रभावशाली नेतृत्व में इस महामारी (Epidemic) को फैलने रोकने के लिए भारत सरकार (Government) द्वारा किए जा रहे प्रयासों की सराहना की. उन्होंने छात्रों के सुरक्षित भविष्य के लिए मानव संसाधन विकास मंत्रालय के प्रयासों को रेखांकित किया. उन्होंने नए शैक्षणिक कैलेंडर और शिक्षा के आभासी प्रणाली के संबंध में उठाए गए कदमों पर बल दिया. उन्होंने कहा कि छात्रों के मानसिक स्वास्थ्य के प्रति चिंता करना बहुत जरूरी है और ओडिशा केंद्रीय विश्वविद्यालय द्वारा शुरू किया गया हेल्पलाइन इस दिशा में एक बहुत बड़ा कदम है.

  बच्चे जब ट्यूशन पढ़ें तो रखें इन बातों का ख्याल

उन्होंने औपचारिक रूप से इस हेल्पलाइन की शुरूआत की और छात्रों, उनके अभिभावकों और अन्य को लाभ पहुंचाने के लिए इसके नंबर की घोषणा की. केंद्रीय मंत्री ने हेल्पलाइन लोकार्पण समारोह में उपस्थित कुलपतियों, संस्थानों के प्रमुखों, ओडिशा के विभिन्न संस्थानों के कुलसचिवों और संकाय सदस्यों सहित उपस्थित लोगों को शुभकामनाएं दीं. उन्होंने देश भर के केंद्रीय और राज्य विश्वविद्यालयों और अन्य उच्च शिक्षण संस्थानों से भी ‘भरोसा’ पहल का अनुकरण करने का आग्रह किया.

ओडिशा केंद्रीय विश्वविद्यालय के कुलपति, प्रो आई. रामाब्रह्मम ने सीयूओ हेल्पलाइन ‘भरोसा’ की प्रमुख विशेषताओं और सेवाओं पर प्रकाश डाला जो कोविड-19 (Kovid-19) के कारण परेशान हुए छात्रों की समस्याओं का समाधान करने का प्रयास करता है. उन्होंने इस तथ्य को दोहराया कि सीयूओ हेल्पलाइन ‘भरोसा’ ओडिशा के किसी भी विश्वविद्यालय के छात्र (student) की चिंताओं को संबोधित करती है और कहा कि सीयूओ हेल्पलाइन के प्रायोगिक चरण में 400 से ज्यादा कॉलें प्राप्त हो चुकी हैं. मधुसूदन मिश्रा, जिलाधिकारी और जिला मजिस्ट्रेट, कोरापुट ने ‘भरोसा’ पहल को संचालित करने की दिशा में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है, जिसका आज औपचारिक रूप से शुभारंभ किया गया है.

Please share this news