कोरोना की दवा खोजने के लिए जुकरबर्ग व उनकी पत्नी चान देंगी 2.5 करोड़ डॉलर की सहायता


ह्यूस्टन . फेसबुक के संस्थापक मार्ग जुकरबर्ग और उनकी पत्नी ​प्रिसिला चान द्वारा गठित संगठन​ चान जुकरबर्ग इनीशिएटिव ने कोरोना (Corona virus) से फैलने वाली बीमारी का उपचार खोजने के लिए बिल एवं मिलिंडा गेट्स फाउंडेशन के साथ हाथ मिलाने और 2.5 करोड़ डालर की राशि का योगदान देने की घोषणा की है.

अमेरिकी उद्यमी एवं माइक्रोसाफ्ट के संस्थापक बिल गेट्स और उनकी पत्नी मिलिंडा इस समय अपना समय और धन परमार्थ कार्य पर लगा रहे हैं. चान ने अमेरिकी टीवी चैनल सीबीएस पर गाइल किंग के साक्षात्कार कार्यक्रम ‘सीबीएस दिस मार्निंग’ में विश्वव्यापी महामारी (Epidemic) कोविड-19 (Kovid-19) संबंधी चान जुकरबर्ग इनीशिएटिव के निर्णय की जानकारी दी.

  गौतम नवलखा की अंतरिम जमानत की अर्जी पर हाई कोर्ट ने राष्ट्रीय जांच एजेंसी से मांगा जवाब

उन्होंने कहा मुझे यह बाताते हुए वास्तव में बहुत गर्व हो रहा है कि हम कोरोना (Corona virus) का इलाज खोजने में तेजी लाने के प्रयासों में गेट्स और अन्य के साथ शामिल होने जा रहे हैं. उन्होंने बताया के वे लोग यह सहायता चिकित्सकों और वैज्ञानिकों के एक ऐसे समूह को दे रहे है जो उन सभी ज्ञात औषधियों की परख व विश्लेषण करेगा, जो कोरोना (Corona virus) संक्रमण के उपचार में कारगर हो सकती हैं.

  सेंट्रल वेयरहाउस कॉरपोरेशन ने सरकार को दिया 35.77 करोड़ का लाभांश

इसका उद्देश्य इस बीमारी के उपचार के तरीके ढूंढने में तेजी लाना है. उल्लेखनीय है कि चीन से शुरू हुए कोरोना (Corona virus) से दुनिया भर में लाखों लोग संक्रमित हुए हैं और इससे मरने वालों की संख्या 20 हजार से भी अधिक हो गई है. अकेले अमेरिका में संक्रमितों की संख्या एक लाख से अधिक हो गई है.

Please share this news