उज़्बेकिस्तान में बांध टूटने के बाद हजारों लोगों को सुरक्षित स्थान पहुंचाया गया


ताशकंद . उज्बेकिस्तान में एक बांध टूट जाने से निचले इलाकों में बाढ़ आ गई जिसके चलते लगभग 70,000 लोगों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया गया है. अधिकारियों का कहना है कि बांध टूटने की आपराधिक जांच की जा रही है. राहत और बचाव कार्य जारी है.

बताया जाता है कि पूर्वी उज्बेकिस्तान में स्थित सरदोबा रिजर्वायर की दीवार शुक्रवार (Friday) को सुबह टूट गई थी जिसके चलते लाखों क्यूसेक पानी बाढ़ की शक्ल में बहने लगा. हादसे में घायल हुए 50 से ज्यादा लोगों को अस्पतालों में भर्ती करवाया गया है. हादसे में दक्षिण कजाकिस्तान के 600 से ज्यादा घरों में पानी भर गया. इस बांध का निर्माण वर्ष 2010 में प्रारंभ किया गया था और 2017 में यह पूर्ण हुआ. मात्र 3 वर्ष के भीतर बांध के टूटने की घटना के बाद जांच बिठा दी गई है.

  खराब मौसम के कारण स्पेस-एक्स का लॉन्च टला

खबरों में बताया गया है कि बांध के टूटने से पहले उस क्षेत्र में तूफानी हवाएं चली और धुआंधार बारिश भी हुई. इसके चलते राहत और बचाव कार्य में बाधा उत्पन्न हुई. कजाकिस्तान के अधिकारियों ने बांध को हुए नुकसान के बारे में समय से जानकारी नहीं देने के लिए उज्बेक अधिकारियों की आलोचना की है.

Please share this news