केंद्रीय मंत्री नकवी ने कहा, ‘यह तालिबानी जुर्म’


नई दिल्ली (New Delhi) . केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने दिल्ली स्थित निजामुद्दीन में तबलीगी जमात का मामला सामने आने के बाद कहा कि इस जमात ने कई लोगों की जान को खतरे में डाल दिया. मंत्री नकवी ने कहा कि जमात ने तालिबानी जुर्म किया है और इसे माफ नहीं किया जा सकता. उन्होंने इस घटना के जिम्मेदारों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है.

  गुजरात में 363 नए केसों के साथ कोरोना का आंकड़ा 13000 को पार

दिल्ली के निजामुद्दीन में तबलीगी जमात के आयोजन में शामिल हुए अन्य 24 लोग भी कोरोना (Corona virus) से संक्रमित पाए गए हैं. जमात की अगुवाई करने वाले मौलाना के खिलाफ सरकार (Government) के आदेश का उल्लंघन करने के मामले में प्राथमिकी दर्ज करने का आदेश दिया गया है. नकवी ने ट्वीट किया कि तबलीगी जमात का ‘तालिबानी जुर्म’ यह लापरवाही नहीं, ‘गंभीर आपराधिक हरकत’ है. जब पूरा देश एकजुट होकर कोरोना से लड़ रहा है तो ऐसे ‘गंभीर गुनाह’ को माफ नहीं किया जा सकता है. निजामुद्दीन स्थित तबलीगी जमात के मरकज में पिछले दो दिनों के दौरान दिल्ली पुलिस (Police) को मिले 1830 व्यक्तियों में 281 विदेशी भी शामिल हैं. यहां मार्च के मध्य में एक धार्मिक कार्यक्रम आयोजित किया था. गृह मंत्रालय (Home Ministry) के अनुसार इस साल जनवरी से लेकर अब तक 2100 के करीब विदेशियों ने तबलीगी जमात की गतिविधियों के सिलसिले में भारत का दौरा किया. इनमें से सभी ने जमात के मुख्यालय दिल्ली के निजामुद्दीन में रिपोर्ट किया.

Please share this news