अयोध्या में राम मंदिर निर्माण से पहले शुरू हुआ समतलीकरण का काम, भूमि पूजन की तैयारी हुई शुरु


अयोध्या . अयोध्या विवाद में सुप्रीम कोर्ट (Supreme court) के फैसले के बाद राम मंदिर (Ram Temple) निर्माण की प्रक्रिया शुरू हो चुकी थी. लेकिन लॉकडाउन (Lockdown) के कारण सबकुछ रुक गया. अब लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान ही 67 एकड़ के श्रीराम जन्मभूमि परिसर में जमीन के समतलीकरण और बैरिकेडिंग के एंगल आदि को हटाने का काम तेजी से हो रहा है. जल्द ही पूरे परिसर को बराबर करके भूमि पूजन की तैयारियां शुरू होंगी. रामलला मंदिर के पुजारी आचार्य सत्येंद्र दास के मुताबिक, जेसीबी मशीनों की सहायता से मुख्य गर्भ स्थल और इसके बगल के चबूतरे आदि के इलाके में समतलीकरण का काम हो रहा है.

  अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा ने रक्तदान, दीपदान, पुष्पांजलि एवं 480 सूर्यनमस्कार से मनाई महाराणा प्रताप जयंती

इसमें काफी समय भी लगेगा. उन्होंने बताया कि गहरे क्षेत्र में पटाई कर समतल बनाया जा रहा है. साथ ही जहां पहले गर्भ स्थल पर राम लला विराजमान थे, वहां के लिए बने टेढे़-मेड़े दर्शन मार्ग की लोहे की गैलरीनुमा रास्ते के एंगल आदि को हटाकर साफ किया गया है. जिससे मंदिर क्षेत्र और इसके आसपास के इलाके को लेकर प्लैटफॉर्म तैयार हो सके.

  कर्नाटक के बाद कांग्रेस अध्यक्ष के खिलाफ बिहार में एफआईआर

श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के कार्यालय का निर्माण पूरा

ट्र्स्ट के कार्यालय का निर्माण कार्य देख रहे इंजीनियर दीनानाथ वर्मा के मुताबिक श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्र्स्ट के अयोध्या कार्यालय का निर्माण कार्य पूरा हो गया है. अब खिड़कियां लगाने और रंगाई-पुताई का काम चल रहा है. इसमें आगे बरामदा, दो कमरे पार्टीशन के कार्यालय, कम्प्यूटर रूम और गेस्ट हाउस बने हैं. कम्प्यूटर भी लग गए है. लैंड लाइन, ब्राडबैंड से इस जोड़ा जा रहा है. लॉकडाउन (Lockdown) खत्म होते ही ट्रस्ट कार्यालय का उद्घाटन किया जाएगा.

Please share this news