महिलाओं द्वारा गणगौर के गीत एवं कोरोना महामारी से बचाव के लिए एवं जागरूकता फैलाने के लिए कोरोना गीत गाया


सीहोर . सुहाग की आकांक्षा से 16 दिन मनाए जाने वाले गणगौर पर्व में मारवाड़ी सोनी ब्राह्मण समाज व अन्य सभी समाज के महिलाओं द्वारा गणगौर के गीत एवं झाले गाए जाते हैं.

चारों तरफ करोना महामारी (Epidemic) से बचाव के लिए सभी प्रयत्नशील हैं क्या समाज क्या सरकार (Government) तो भला गणगौर पर्व इससे अछूता कैसे रहता. आज गणगौर के शाम के समय निकलने वाले जुलूस के बाद जब महिलाएं श्रीमती ज्योति रूठिया के बगीचे में गणगौर पर्व मनाने पहुंची तो वहां गणगौर के पारंपरिक गीतों के अलावा झाले में कोरोना से बचाव के लिए भी गीत गाया गया श्रीमती निर्मला व्यास द्वारा रचित यह गीत उन्होंने अपनी सखियों श्रीमती शशि विजयवर्गी राजू पालीवाल प्रेमा रूठिया मंजू भरतीया ममता पीतलया मंजू अग्रवाल संध्या विजयवर्गी पुष्पा सोनी रानी मंजू राजू पालीवाल आभा कासता श्वेता विजयवर्गीय प्रीति शर्मा अनीता शर्मा आदि ने मिलकर कोरोना से बचाव के लिए यह गीत गाया.

  भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा कोरोना संक्रमित, लक्षण दिखने पर अस्पताल में हुए भर्ती

उपस्थित सभी महिलाओं ने समाज में कोरोना के प्रति इस तरह की जागरूकता फैलाने के लिए उनकी भूरी भूरी प्रशंसा की. श्रीमती निर्मला व्यास ने पूर्व में भी गणगौर के गीत की क्लासे लगाई थी और बहुत सारी नई बहुओं को गणगौर के परंपरागत गीत सिखाएं अब उसी में नवीनता लाने हेतु उन्होंने आज समाज में जिस जागरूकता की आवश्यकता थी उसके लिए यह कौराना पर आधारित झाला गीत बनाया. और आगे भी इसी तरह से प्रयत्नशील रहने का अपना संकल्प दोहराया.इस गीत की वीडियो रिकॉर्डिंग श्रीमती निर्मला व्यास द्वारा यूट्यूब पर भी डाली गयी है.

Please share this news