कोरोना वायरस के दुष्प्रभाव से बैंकिंग और शेयर बाजार में हड़कंप

मुंबई (Mumbai) . ग्लोबल रेटिंग एजेंसी एनालिस्ट गिविंग रनिंग ने कहा असली चिंता इस बात की है. कोरोना (Corona virus) कितने लंबे समय तक चलेगा और यह कहां कहां तक फैलेगा.

क्रेडिट रेटिंग एजेंसी के अनुसार 2020 में अभी आर्थिक मुश्किलें और बढेंगी. रिपोर्ट के अनुसार महामारी (Epidemic) के कारण 2020 में एशिया पेसिफिक देशों के बैंकों का क्रेडिट कास्ट लगभग 23 लाख करोड़ रुपए. बढ़ेगी इसके साथ ही एनपीए में लगभग 46 लाख करोड़ रुपए की वृद्धि होगी. एजेंसी का कहना है कोरोनावायरस महामारी (Epidemic) के प्रारंभिक चरण में बैंकों और कारपोरेट जगत के ऊपर अभी असर बहुत कम आया है. आगे चलकर यह असर और भी बढ़ेगा.

  एयरलाइंस को निर्देश फ्लाइट में खाली रखें बीच की सीट

एसएंडपी ग्लोबल रेटिंग्स की ताजा रिपोर्ट के अनुसार भारत के बैंकों का एनपीए 1.9 फ़ीसदी के औसत पर रहेगा क्रेडिट कास्ट में 130 बेसिस अंको की वृद्धि होगी रिपोर्ट में कहा गया है कि चीन में एनपीए रेशियो 2 फ़ीसदी तक बढ़ेगा क्रेडिट कास्ट में 100 बेसिस अंको का इजाफा होगा.

  मारुति सुजुकी ने अपने ग्राहकों को दिया तोहफा, फ्री सर्विस और वारंटी 30 जून तक बढ़ाई

रेटिंग एजेंसियों द्वारा वैश्विक अर्थव्यवस्था और भारतीय अर्थव्यवस्था को लेकर जो रिपोर्ट जारी की गई हैं. उसके अनुसार अर्थव्यवस्था की बदहाली का यह प्रारंभिक चरण है आगे के माहों में आर्थिक मुश्किलें बैंकों और कारपोरेट जगत की तेजी के साथ खराब होगी.

Please share this news