कोरोना संकट के बावजूद अमेरिका की ट्रिपल-ए रेटिंग बरकरार


वाशिंगटन . रेटिंग संस्था फिच ने कोरोना (Corona virus) वैश्विक महामारी (Epidemic) के चलते अमेरिका में बढ़ती बेरोजगारी और सिर पर मंडराते मंदी के खतरे के बावजूद देश की वित्तीय साख (क्रेडिट रेटिंग) को ट्रिपल ‘ए’ के स्तर पर बरकरार रखा है. फिच ने कहा ‎कि अमेरिका की वित्तीय साख का यह स्तर उसकी अर्थव्यवस्था की बुनियादी मजबूती के चलते है.

  समस्त ब्राह्मण सामूहिक विवाह समिति द्वारा छठवा "श्री परशुराम खाद्य सामग्री किट" वितरण कार्यक्रम सम्पन्न

अमेरिका की व्यवस्था बढ़ी, प्रति व्यक्ति आय ऊंची और व्यावसायकि वातावरण गतिशील है. यह रेटिंग ऐसे समय में जारी की गई है जब श्रम मंत्रालय ने 21 मार्च को समाप्त हुए सप्ताह में 33 लाख लोगों के बेरोजगार होने की जानकारी दी. फिच ने अनुमान जताया है कि अमेरिका की जीडीपी इस साल तीन प्रतिशत तक घट जाएगी जो 2009 के वैश्विक आर्थिक संकट से भी ज्यादा खराब है. हालांकि यह भी अनुमान जताया कि अगर वायरस के प्रसार को रोक लिया जाता है तो यह जीडीपी 2021 में सुधर भी सकती है.

Please share this news