जमात के मरकज से लौटे नेपाल के 19 लोगों की पहचान


पटना (Patna) . दिल्ली के निजामुद्दीन स्थित तबलीगी जमात के मरकज से लौटे नेपाल के 19 लोगों की पहचान हो गई है. इनमें से 16 एक ही जिले के हैं, जबकि उसके पास के जिले के अन्य लोग मरकज गए थे. भारत के गृह मंत्रालय (Home Ministry) की ओर से तबलीगी जमात में शामिल होने वालों की सूची दिल्ली स्थित नेपाली दूतावास को दी गई है. मंगलवार (Tuesday) की शाम को नेपाल के गृह मंत्रालय (Home Ministry) ने जमात में गए सभी को आइसोलेशन में रखने का निर्देश दिया है.

  RJD के कुनबे को गोपालगंज जाने से रोका, काफिले में राबड़ी देवी और तेजप्रताप यादव भी मौजूद

काठमांडू के गृह मंत्रालय (Home Ministry) सूत्रों ने बताया कि दिल्ली के निजामुद्दीन से लौटे 19 नेपाली नागरिकों में 16 सिर्फ रौतहट जिले के हैं. बाकी के लोग रौतहट के बारा जिले के बताए गए हैं. रौतहट के जिला प्रशासन ने सभी 16 लोगों की पहचान कर उन्हें वहीं क्वारंटीन में रखकर उनका परीक्षण किए जाने की जानकारी दी है. बाकी के चार लोग जिनमें दो जीतपुर और दो निजगढ़ के बताए गए हैं, उनकी तलाश जारी है.

  भीलवाड़ा से 1370 बिहार वासियों को लेकर रवाना ट्रेन

तबलीगी जमात में गए अभी तक 90 लोगों में कोरोना का टेस्ट पॉजिटिव आने के बाद नेपाल में व्यापक स्तर पर तनाव बढ़ गया है. नेपाल में कोरोना से संक्रमित मरीजों की संख्या सिर्फ 5 है,इसमें एक व्यक्ति अपना इलाज करा वापस जा चुका है. अब तक कोरोना के कारण एक भी मौत की पुष्टि नहीं हुई है. लेकिन जमात से लौटे 19 लोग और वहां के मदरसा में रहकर पढ़ाई कर रहे 23 नेपाली नागरिकों के कारण मरीजों की संख्या और संक्रमण दोनों ही बढ़ने का खतरा है.

Please share this news