बीमार महिला की मौत, कोरोना संक्रमित होने के शक में अंतिम संस्कार में नहीं गए लोग

ग्वालियर . जिले की भितरवार तहसील के खेड़ा टांका गांव में खांसी, जुकाम और बुखार से कुछ दिन से पीड॰ित चल रही एक महिला ने शनिवार (Saturday) को जानकारी के अनुसार करहिया थाना क्षेत्र के ग्राम खेड़ा टांका निवासी रोशनलाल की पत्नी मुन्नीबाई 48 होली के बाद से ही खांसी जुकाम से पीड़ित चल रही थी. इसका इलाज भी भितरवार के अस्पताल में चल रहा था. लंबे समय से पीड़ित महिला को आराम न मिलने के बाद शनिवार (Saturday) की सुबह उसकी मौत हो गई.

  मणिपुर और पूर्वोत्तर भारत के कुछ हिस्सों में महसूस किए गए भूकंप के झटके

महिला के कोरोना से संक्रमित होने की शंका में गांव में दहशत फैल गई. मृतक महिला के दोनों बच्चे भी जुकाम-खांसी और बुखार से पीड़ित होने पर गांव के लोगों ने इसकी सूचना तहसीलदार को दी और जांच कराने की मांग की. ग्रामीणों की सूचना पर तहसीलदार ने स्वास्थ्य विभाग की टीम भेजने का आश्वसन दिया लेकिन उसके बाद कोई नहीं आया.

  गेंदबाजों के अनुकूल पिचें बनवाए : पठान

केके सिंह गौर एसडीएम भितरवार ने मामले में बताया कि खेड़ा टांका गांव में महिला की मौत हुई है. परिजनों के मुताबिक वह पहले से ही बीमार चल रही थी. उसका अस्पताल में इलाज भी कराया लेकिन उसकी हालत में सुधार नहीं हुआ. मृत महिला के बीमार परिजन की भी अस्पताल में जांच कराई गई है. सभी को सामान्य खांसी जुकाम है. कोरोना जैसे लक्षण नजर नहीं आए.

Please share this news