दुधमुंहे बच्चे की मौत, होम आईसोलेशन में था परिवार

जांजगीर-चांपा, . अकलतरा के पचरी-खोड़ गांव में सोमवार (Monday) की रात ढाई वर्ष के एक बच्चे की संदिग्ध स्थिति में मौत हो गई. मासूम का पूरा परिवार होम आईसोलेशन में था. बताया जा रहा है कि चार दिन पहले जिस बच्चे के फेफड़े में दूध घुस जाने से मौत हुई थी ठीक उसी तरह इस बच्चे की मौत हुई है. पुलिस (Police) से मिली जानकारी के अनुसार अकलतरा ब्लॉक के ग्राम पंचायत पचरी खोड़ निवासी संदीप कंवर अपने पत्नी व ढाई साल के बच्चे के साथ उत्तरप्रदेश (Uttar Pradesh) के इलाहबाद कमाने खाने गया हुआ था. 16 जून को अपने घर पचरी पूरे परिवार के साथ लौटा था. इसके बाद से पूरे परिवार होम आईसोलेशन में थे.

बच्चे की मां ने बताया कि अपने ढाई साल का बेटा अमीर को सोमवार (Monday) की रात 10 बजे दूध पिलाई, इसके बाद बच्चा सो गया था. फिर 3 बजे रात जब महिला नींद से जगी तो बच्चे को दूध पिलाने के लिए उठाई तो बच्चा नहीं उठा. महिला ने इसकी जानकारी अपने पति समेत घर के अन्य लोगों को दी. सुबह होते ही घटना के जानकारी स्वास्थ्य विभाग को दी गई. आनन फानन में स्वास्थ्य विभाग की टीम पचरी गांव पहुंची. इसके बाद स्वास्थ्यकर्मी आरएमए विकास पांडेय ने मौत की पुष्टि की. लैब टैक्नीशियन चंद्रिका प्रसाद, अमर टैगोर ने मां बच्चे का रैपिड टैस्ट के माध्यम से कोविड सैंपल लिया. जिसमें रिपोर्ट निगेटिव आई. बच्चे की मौत के बाद घर और गांव में मातम पसरा हुआ है.

Please share this news