बेटी को जन्म देने के पहले तक कोरोना टेस्ट किट को तैयार कर रही थी वैज्ञानिक मीनाल


पुणे . पुणे की माइलेब डिस्कवरी ने 150 कोरोनावायरस के टेस्ट किट पुणे मुंबई (Mumbai) दिल्ली और बेंगलुरु (Bengaluru) में भेजे हैं. इस टेस्ट किट में ढाई घंटे में जांच रिपोर्ट मिल जाती है. विदेश से जो किट आई हैं. उसमें जांच रिपोर्ट मिलने में 6 से 7 घंटे लगते हैं.

इस टीम की प्रमुख वैज्ञानिक मीनल दखावे भोसले ने गर्भावस्था के दौरान लगातार इसके को तैयार करने का काम किया. बेटी को जन्म देने के 1 दिन पहले तक यह लगातार लैवेटरी में काम करती रहे. किट तैयार होने के बाद इसे नेशनल इंस्टीट्यूट आफ वायरोलॉजी को सौंपी गई है. महिला वैज्ञानिक मिलल दिखावे भोसले का कहना है कि टेस्ट किट बनाना उसके लिए एक चुनौती थी. 6 सप्ताह के अंदर इस चुनौती को उन्होंने पूरा किया काम की सफलता से जो खुशी उन्हें मिली है वह असाधारण है.

  उदयपुर से बसों द्वारा कोटा गये छत्तीसगढ़ के 350 प्रवासी, वहां से रेल द्वारा जाएंगे छत्तीसगढ़

उल्लेखनीय है कि माई लैब डिस्कवरी ने जो कोरोनावायरस की टेस्ट किट बनाई है. उसकी कीमत मात्र 1200 रुपए की है. इसमें 100 सैंपल की जांच हो सकती है. एक जांच मात्र 12 रुपए की पड़ेगी. जबकि विदेशों से जो किट आई हैं उसमें एक जांच 4500 रुपए की पड़ रही है.

Please share this news