सफाई योद्धाओं के साथ मुख्यमंत्री ने सीधी बात कर कुशलक्षेम पूछी

कोरोना (Corona virus) संक्रमण के विकट हालात में सफाई कर्म योद्धाओं की मुख्यमंत्री (Chief Minister) ने की सराहना

गांधीनगर . मुख्यमंत्री (Chief Minister) विजय रूपाणी ने मंगलवार (Tuesday) को गुजरात के 10 सफाई योद्धाओं के साथ सीधी बातचीत की. मुख्यमंत्री (Chief Minister) निवास से सीएम डैशबोर्ड और जनसंवाद केंद्र के माध्यम से राज्य के सफाई कार्य में लगे कर्म योद्धाओं के साथ बातचीत करते हुए विजय रूपाणी ने कहा कि सफाई योद्धाओं की अनन्य सेवा और समर्पण भाव से ड्यूटी की बदौलत गुजरात की जनता कोरोना के खिलाफ जंग में सुरक्षित है. उन्होंने गुजरात की जनता की ओर से राज्य के सभी सफाई योद्धाओं का आभार व्यक्त करते हुए उन्हें दिल से धन्यवाद दिया. अहमदाबाद (Ahmedabad) महानगरपालिका की सफाई कर्मयोगी श्रीमती दीनाबेन नरेशभाई वाघेला के साथ बात करते हुए मुख्यमंत्री (Chief Minister) ने कहा कि ऐसे विकट हालात में भी आप सफाई योद्धा गुजरात को स्वच्छ रखने का जो कठिन कार्य कर रहे हैं वह बधाई के पात्र है.

  मानव जीवन बचाना जरूरी पर आर्थिक गतिविधियां पूरी तरह बंद नहीं होनी चाहिए : यामाहा

उन्होंने सभी सफाई कर्मियों से उन्हें दिए जाने वाले मास्क, हैंड ग्लोब्स, सेनेटाइजर और हाथ धोने के साबुन आदि के बारे में पूछा. तमाम सफाई कर्मियों ने उन्हें मिल रही सारी सुविधाओं को लेकर संतोष जताते हुए मुख्यमंत्री (Chief Minister) का आभार व्यक्त किया. पेटलाद नगरपालिका की सफाई कर्मयोगी श्रीमती कांताबेन चंद्रेशभाई जादव के साथ बात करते हुए मुख्यमंत्री (Chief Minister) विजय रूपाणी ने कहा कि, ‘आप सभी सफाई योद्धाओं के परिश्रम के कारण ही गुजरात की जनता सलामत और कोरोना के खिलाफ जंग में सुरक्षित है.’

मुख्यमंत्री (Chief Minister) विजय रूपाणी ने सफाई कर्म योद्धाओं के स्वास्थ्य की चिंता करते हुए उनसे भी अपनी तबीयत संभालने का निवेदन किया और कहा कि यदि आप तंदुरुस्त रहेंगे तो गुजरात तंदुरुस्त रहेगा और आप बीमार पड़ेंगे तो गुजरात बीमार पड़ जाएगा. उन्होंने सभी सफाई कर्मियों से तंदुरुस्ती का ख्याल रखने का आग्रह किया. सफाई कर्मी योद्धाओं से मुखातिब मुख्यमंत्री (Chief Minister) विजय रूपाणी ने आज अहमदाबाद (Ahmedabad) की श्रीमती दीनाबेन वाघेला, सूरत (Surat) महानगरपालिका के संजय दलसुखभाई, वडोदरा की श्रीमती तुलसीबेन सोलंकी, राजकोट की श्रीमती ज्योतिबेन परमार, जामगर के कपिलभाई वाघेला, भावनगर की श्रीमती भानुबेन दाढिया, जूनागढ़ के सागर बारैया, गांधीनगर के जयदीपभाई भूतड़िया, पेटलाद की श्रीमती कांताबेन जादव और कड़ी नगरपालिका के सफाई योद्धा गिरीशभाई वाघेला के साध सीधी बात कर उन सभी से कुशलक्षेम पूछा. सभी सफाई योद्धाओं ने भी मुख्यमंत्री (Chief Minister) द्वारा उनसे सीधे बातचीत करने और हालचाल पूछने पर आश्चर्य मिश्रित संतोष का भाव व्यक्त किया.

  70 प्रतिशत लोग चाहते हैं नरेंद्र मोदी अगली बार भी प्रधानमंत्री बनें : येदियुरप्पा

गौरतलब है कि मुख्यमंत्री (Chief Minister) विजय रूपाणी जनसंवाद केंद्र और सीएम डैशबोर्ड के जरिए वर्तमान परिस्थिति में अक्सर विभिन्न कर्मियों और कोरोना पीड़ितों के साथ संवाद करते रहे हैं. इस श्रृंखला में उन्होंने राज्य के चिकित्सकों, पुलिस (Police) कर्मियों, सरपंचों, क्वारंटाइन हुए नागरिकों और कोरोना के उपचाराधीन मरीजों के साथ बातचीत कर उनका हालचाल जानने के अलावा हालात की जानकारी और फीडबैक हासिल किया है. आज अदने सफाई कर्मियों के साथ संवाद कर उन्होंने सीएम यानी चीफ मिनिस्टर नहीं बल्कि ‘कॉमनमैन’ की अपनी छवि को एक बार फिर उजागर किया है.

Please share this news