बार एसोसिएशन के प्रयासों से सड़क हादसे में दिवंगत हुए 2 अधिवक्‍ताओं को मिली परिजनों को दो-दो लाख की सहायता

उदयपुर (Udaipur). बार एसोसिएशन उदयपुर (Udaipur) से संबंधित दो युवा अधिवक्ताओं की वर्ष 2017 में सड़क हादसे में हुए आकस्मिक निधन के बाद एसोसिएशन ने सकारात्मक प्रयास कर उनके परिजनों को दो-दो लाख रुपए का इंश्योरेंस क्लेम दिलवा कर आर्थिक सहायता प्रदान करवाई है.

बार एसोसिएशन के अध्यक्ष मनीष शर्मा ने बताया कि बार एसोसिएशन अपने समस्त अधिवक्ताओं का हर वर्ष अधिवक्ताओं का एक्सीडेंटल ग्रुप इंश्योरेंस करवाता है. बार एसोसिएशन ने वर्ष 2016 में आईसीआईसी लोंबार्ड जनरल इंश्योरेंस कंपनी से ग्रुप इंश्योरेंस लिया था. उस पॉलिसी अंतर्गत वर्ष 2017 में बार एसोसिएशन के अधिवक्ता स्व. करण सिंह राणावत एवं  गुलाब सिंह  सिसोदिया का अलग-अलग सड़क हादसों में निधन हो गया था तथा उसकी सूचना वर्ष 2017 में दी गई तथा प्रेषित  क्लेम में डॉक्यूमेंट की कमी के कारण दोनों दिवंगत हुए अधिवक्ताओं को कोई आर्थिक लाभ नहीं मिल पाया, जिसको वर्ष 2019 सितंबर माह में बार एसोसिएशन उदयपुर (Udaipur) के पूर्व महासचिव लोकेश मेनारिया के नेतृत्व में मनीष कुमार चौबीसा ने आईसीआईसी लोंबार्ड के हेड ऑफिस हैदराबाद में हेल्पलाइन नंबर के जरिए संपर्क कर चार महीनों के विशेष प्रयास कर दोनों क्लेम को पारित करवाया.

  उदयपुर में रविवार को मिले 21 कोरोना मरीज

महासचिव चक्रवर्ती सिंह राव ने बताया कि दोनों क्लेम के पारित होने के बाद इनका बार एसोसिएशन कार्यालय में अध्यक्ष मनीष शर्मा, उपाध्यक्ष नीलाक्ष द्विवेदी, महासचिव चक्रवर्ती सिंह राव, सचिव राजेश शर्मा, वित्त सचिव पृथ्वीराज तेली, पुस्तकालय सचिव धीरज व्यास, वरिष्ठ अधिवक्ता राजेश उपाध्याय एवं हरीश पालीवाल की मौजूदगी में पारित अवार्ड राशि की संपूर्ण राशि अधिवक्ता  स्व करण सिंह राणावत के नॉमिनी उनकी पत्नी विनीता कुमार और गुलाब सिंह सिसोदिया के नॉमिनी उनके भाई जयसिंह के खाते में आर टी जी एस के जरिए जमा कराए गए हैं. जमा राशि के प्रमाण पत्र बार कार्यालय में उनके परिजनों द्वारा सुपुर्द कराए गए हैं.

Please share this news