सामूहिक दुष्कर्म करने वाले आरोपियों की जमानत खारिज


श्योपुर नाबालिग किशोरी का अपहरण कर सामूहिक दुष्कर्म के मामले में न्यायालय ने दो आरोपितों की जमानत खारिज कर दी गई है. मामले में शासन की और से पैरवी डीपीओ रविकांत बरैया द्वारा की गई.

मीडिया (Media) सेल प्रभारी रिचा शर्मा ने बताया, कि एक गांव से 29 जुलाई की रात तीन युवक 14 वर्षीय नाबालिग किशोरी का अपहरण कर ले गए और कई दिनों तक बंधक बनाकर उसके साथ दुष्कर्म किया. किसी तरह किशोरी आरोपितों के चंगुल से छूटकर घर पहुंची और उसने सारी घटना स्वजन को बताई. बड़ौदा थाना पुलिस (Police) ने पीड़ित किशोरी की रिपोर्ट पर दीपक परमार, बंटी मीणा, रामरूप मीणा के खिलाफ दुष्कर्म व पास्को एक्ट के तहत मामला दर्ज कर प्रकरण न्यायालय में पेश किया. बंटी मीणा व रामरूप मीणा की तरफ से जमानत के लिए आवदेन प्रस्तुत किया गया. जिला न्यायालय मामले में सुनवाई करते हुए दोनों की जमानत निरस्त कर दी.

Please share this news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *