स्ट्रॉबेरी और पालक में सबसे ज्यादा मात्रा में पेस्टिसाइड की मात्रा


लंदन . हम जो फल या सब्जियां खाते हैं, उसमें कितनी मात्रा में कीटनाशक मिला यह जानकर आपकी आंखें फटी रह जाएंगी. अध्ययन में विशेषज्ञों ने कहा है कि सामान्य तरीके से उगाए जाने वाले 70 फीसदी फल व सब्जियों में 230 तरह के कीटनाशक या उसी तरह के अन्य उत्पादों का इस्तेमाल किया गया है. संस्थान ने यह दावा अमेरिकी कृषि विभाग द्वारा जांचे गए उत्पादों के सैंपल के आकलन के आधार पर किया है. इसके मुताबिक स्ट्रॉबेरी और पालक में सबसे ज्यादा मात्रा में पेस्टिसाइड की मात्रा होती है. स्ट्रॉबेरी के एक सैंपल को जांचा गया, तो उसमें 20 अलग-अलग तरह के पेस्टिसाइड पाए गए. इसी तरह पालक में उसके वजन से दो गुना (guna) पेस्टिसाइड का अवशेष था.

  विस्तारा के पहले ड्रीमलाइनर विमान ने दिल्ली-कोलकाता मार्ग पर अपनी पहली वाणिज्यिक उड़ान भरी

इस अध्ययन के आधार पर 12 फलों और सब्जियों की सूची जारी की है, जिसमें पेस्टिसाइड की मात्रा सर्वाधिक पाई गई. संस्थान ने सबसे गंदे फल व सब्जियों की श्रेणी में रखा है. इस सूची में सेब, अंगूर, आड़ू, चेरी, नाशपाती, टमाटर, आलू, सेलेरी और स्वीट बेल पेपर को रखा है. आड़ू, चेरी और सेब की 98 फीसदी से ज्यादा किस्मों में एक से अधिक पेस्टिसाइड पाया गया. संस्थान ने बताया कि इस साल की सूची पिछले साल की तरह ही रही. इससे साबित होता है कि फसलें उगाने के तरीके में कोई खास बदलाव नहीं आया है. अमेरिकी संघीय कानून में 1996 में यह व्यवस्था दी गई कि इनवायरनमेंटल प्रोटेक्शन एजेंसी (ईपीए) फलों और सब्जियों व अन्य खाद्य उत्पादों में पेस्टिसाइड के इस्तेमाल देखेगी और नियम बनाएगी.

  देश में एक माह में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में 134397 की बढ़ोत्तरी

विशेषज्ञों ने सबसे गंदे फल और सब्जियों की तरह सुरक्षित फलों और सब्जियों की भी सूची जारी की है. इसमें एवोकाडो, स्वीट कॉर्न, अन्नास, बंद गोभी, प्याज, फ्रोजेन स्वीट पीज, पपीता, एसपरेगस, आम, बैंगन, कीवी, फूल गोभी, ब्रॉकली, कैंटालूप्स और खरबूजा शामिल हैं.

Please share this news