बासी भोजन के सेवन से बचे, फ्रिज में रखा खाना भी पहुंचा सकता है नुकसान


नई दिल्ली (New Delhi) . हमारे यहां बासी भोजन को फ्रिज में सुरक्षित रखने की आदत है और हम उसे दोबारा उपयोग करने में भी परहेज नहीं करते जबकि यह भोजन हमारे स्वास्थ्य पर विपरीत असर डाल सकता है. कई बार अपने बिजी शेड्यूल की वजह से हम ज्यादा खाना बना लेते हैं ताकि बार-बार न बनाना पड़े, तो कई बार जरूरत से ज्यादा खाना ऑर्डर कर देते हैं या फिर कई बार खाना बनाने के बाद खाने का मन नहीं होता. कारण चाहे जो भी हो जब भी कोई खाना बच जाता है तो हम उसे फ्रिज में रख देते हैं और फिर बाद में या अगले दिन उसे गर्म करके खा लेते हैं. लेकिन क्या बचे हुए खाने को दोबारा गर्म करके खाना सेफ है?

  सोनालीका ने इंटेलिजेंट वेंटीलेटर सिस्टम का निर्माण किया

बचे हुए खाने को कितने टेंपरेचर पर रखना चाहिए? खाने-पीने की कुछ चीजें ऐसी होती हैं जिनका आप बाद में सेवन कर सकते हैं लेकिन सिर्फ तभी जब आप उस बचे हुए खाने को सही तरीके से स्टोर करके रखें. क्या आप जानते हैं कि आप बचे हुए खाने को कितने दिन तक फ्रिज में रख सकते हैं? बचे हुए खाने को कितने तापमान पर फ्रिज में रखना चाहिए? अगर आपको इन बातों की जानकारी नहीं है तो बेहतर होगा कि आप बचे हुए खाने का सेवन न करें क्योंकि लेफ्टओवर फूड यानी बचा हुआ बासी खाना आपके शरीर को कई तरह से नुकसान पहुंचा सकता है.

जब हम खाना पकाते हैं और तुरंत उसे खाने की बजाए फ्रिज में रख देते हैं और बाद में खाते हैं तो उसमें बैक्टीरिया और दूसरे हानिकारक माइक्रोऑर्गैनिज्म पनपने लगते हैं. ऐसा इसलिए होता है कि खाना बनाने के बाद आप उसे तुरंत फ्रिज में नहीं रखते बल्कि रूम टेंपरेचर पर आने के बाद फ्रिज में रखते हैं. इस प्रैक्टिस की वजह से बैक्टीरिया खाने में कई गुना (guna) बढ़ जाते हैं जिससे बीमार पड़ने का खतरा रहता है.

  चीन की शह पर WHO का तुगलकी फरमान, भारत की हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन दवा पर लगाई रोक

बचे हुए खाने में मौजूद यही बैक्टीरिया जब हमारे शरीर के अंदर जाते हैं तो पाचन की प्रक्रिया में रुकावट डालते हैं और खाना सही ढंग से पच नहीं पाता. ऐसे में अपच, गैस, ऐसिडिटी जैसी दिक्कतें होती हैं. इतना ही नहीं, कई बार बचे हुए खाने का टेस्ट खराब नहीं लगता लेकिन वो फर्मेंट हो चुका होता है और इस तरह के खाने का सेवन करने से ऐसिडिटी की दिक्कत लंबे समय तक बनी रहती है. अगर खाने को बनाने के 2 घंटे के अंदर फ्रिज में न रखा जाए तो उसमें बैक्टीरिया की तादाद बेहद तेजी से बढ़ने लगती है जिससे खाना खराब होने का रिस्क काफी बढ़ जाता है.

  बायोकॉन को कोरोना इलाज के उपकरण बनाने डीसीजीआई की मंजूरी

इन हानिकारक बैक्टीरिया की वजह से फूड पॉइजनिंग का खतरा भी काफी बढ़ जाता है. फूड पॉइजनिंग अगर बहुत ज्यादा बढ़ जाए तो वोमेटिंग के साथ-साथ पेट में तेज दर्द होने लगता है जिससे शरीर में डिहाइड्रेशन की दिक्कत होने लगती है और डायरिया भी हो सकता है. लिहाजा बेहद जरूरी है कि आप बचे हुए खाने से पहले अपनी सेहत का ध्यान रखें.

Please share this news