58 लोगों के साथ जार्डन में फंसे साउथ के सुपरस्टार सुकुरामन, लगाई मदद की गुहार


मुंबई (Mumbai) . कोरोना (Corona virus) का कहर पूरी दुनिया में देखा जा रहा है. इस प्रकोप से पार पाने के लिए पूरे भारत में लॉकडाउन (Lockdown) किया गया है, जिससे भारत की अर्थव्यवस्था पर असर पड़ा है. फिल्मी जगत में भी इसका इसर देखने को मिल रहा है. कई फिल्मों की शूटिंग रोक दी गई है, जबकि कुछ फिल्मों को रिलीज डेट को टाल दी गई है. लॉकडाउन (Lockdown) के वजह से लोग घरों में कैद हैं. कई सितारे ऐसे भी हैं, जो विदेश में ही फंस गए हैं.

  दिल्ली में हल्का भूकंप, जान माल का नुकसान नहीं

कोरोना (Corona virus) के संकट के बीच एक मलयालम फिल्म के 58 सदस्य जॉर्डन में फंस गए हैं. इन लोगों में अभिनेता पृथ्वीराज सुकुरामन और निर्देशक ब्लेसी भी शामिल हैं. अभिनेता पृथ्वीराज सुकुरामन ने हाल ही में सोशल मीडिया (Media) पर एक पोस्ट शेयर किया, जिसके बाद सभी को सुरक्षित भारत लाने की कवायद तेज हो गई है. ये सभी जॉर्डन के वाडीरम में फंसे हुए हैं, जहां इनकी फिल्म ‘आदुजीवीथम’ की शूटिंग होनी थी.

अभिनेता पृथ्वीराज सुकुरामन ने हाल ही में सोशल मीडिया (Media) पर एक पोस्ट शेयर किया, जिसके बाद सभी को सुरक्षित भारत लाने की कवायद तेज हो गई है. ये सभी जॉर्डन के वाडीरम में फंसे हुए हैं, जहां इनकी फिल्म ‘आदुजीवीथम’ की शूटिंग होनी थी. पृथ्वीराज ने अपने फेसबुक वॉल पर एक पोस्ट किया. इस पोस्ट में उन्होंने लिखा- हैलो. आशा है कि हर कोई इस कठिन समय के दौरान सुरक्षित रहने के लिए पूरी कोशिश कर रहा है.

  कोरोना वायरस जन‍ित बीमारी का इन्दौर में 'जादुई उपचार'!

पृथ्वीराज सुकुरामन ने कहा कि हम समझते हैं कि दुनिया भर की परिस्थिति को देखते हुए, हमारी टीम को वापस ले जाने के लिए अधिकारियों के लिए बड़ी चिंता का विषय नहीं है, जो सही भी है. लेकिन हमने यह भी महसूस किया कि ये हमारा कर्तव्य था कि हम सभी संबंधितों को स्थिति के बारे में बताएं और उन्हें अपडेट रखें. दुनिया भर में हजारों भारतीय घर वापस जाने का इंतजार कर रहे हैं और हमें उम्मीद है जब उचित अवसर आएगा तो हमें भी भारत वापस ले जाया जाएगा.

Please share this news