चिकित्सकीय उपकरण बनाने वाली छोटी इकाइयों को 50 लाख ऋण देगी सिडबी


मुंबई (Mumbai) . भारतीय लघु उद्योग विकास बैंक (Bank) (सिडबी) दवा और चिकित्सकीय उपकरणों की आपूर्ति करने वाले लघु और मध्यम उद्योगों को 50 लाख रुपए तक ऋण उपलब्ध कराएगा. कोरोना (Corona virus) संकट से निपटने के लिए सिडबी ने शुक्रवार (Friday) को यह मदद उपलब्ध कराने की घोषणा की. सिडबी की आपात स्थिति में सुविधा कराने वाली योजना सेफ (सिडबी असिस्टेंट टू फेसिलिटेट इमरजेंसी) लघु और मध्यम उद्योगों को पांच प्रतिशत की तय ब्याज दर पर यह ऋण देगी.

  गर्लफ्रेंड को परेशान करने वाले दोस्त का गला दबाकर यमुना में फेंका

इस योजना के तहत दिया गया ऋण पांच वर्ष में चुकाना होगा. इस योजना के तहत हैंड सैनिटाइजर, मास्क, दस्ताने, सिर ढंकने का कपड़ा, (हेड गियर), शरीर को ढकने के कपड़े (बॉडी सूट), जूते के कवर, वेंटिलेटर, चश्में इत्यादि बनाने वाले लघु और मध्यम उद्योग ऋण पाने के योग्य होंगे. सिडबी के चेयरमैन और प्रबंध निदेशक मोहम्मद मुस्तफा ने एक बयान में कहा ‎कि देश वर्तमान में जिस संकट से गुजर रहा है.

  सैफुद्दीन सोज की नजरबंदी के खिलाफ पत्नी ने न्यायालय में दायर की याचिका

हमें उन कंपनियों को तत्काल मदद देने की जरूरत महसूस हुई जो इस संकट से लड़ने में देश की मदद कर सकती हैं. उन्होंने कहा कि यह राष्ट्र के साथ खड़े रहने के लिए इन कंपनियों को हमारी ओर से भरोसा है कि हम उनके साथ खड़े हैं. सिडबी ने कहा कि यह ऋण आवेदन करने के 48 घंटे के भीतर मिल जाएगा और यह रेहन-मुक्त ऋण होगा. लघु उद्योग इस ऋण के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं.

Please share this news