Monday , 28 September 2020

रायपुर के पास छत्तीसगढ़ सरकार बनाएगी माता कौशल्या का भव्य मंदिर


रायपुर(नई दिल्ली (New Delhi)). एक तरफ अयोध्या में राम मंदिर (Ram Temple) निर्माण के लिए भूमि पूजन की तैयारियां जोरों पर हैं तो छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के मुख्यमंत्री (Chief Minister) भूपेश बघेल ने घोषणा की है कि रायपुर (Raipur) के पास भगवान राम की माता कौशल्या का भव्य मंदिर बनवाया जाएगा. बघेल ने कहा कि माता कौशल्या के पौराणिक मंदिर को संरक्षित किया जाएगा तो परिसर का सौंदर्यीकरण किया जाएगा. उन्होंने यह भी कहा है कि यहां आने वाले श्रद्धालुओं के लिए उचित व्यवस्था की जाएगी. गौरतलब है कि छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) सरकार (Government) राम वन गमन पथ के महत्वपूर्ण स्थानों को पर्यटन स्थल के रूप में विकसित कर रही है और माता कौशल्या के जन्स्थान चंदखुरी पर मंदिर बनाने पर विचार कर रही है. मुख्यमंत्री (Chief Minister) ने दावा किया कि छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) भगवान राम का ननिहाल है, जहां उन्होंने वनवास के दौरान भी काफी समय बिताया.

सीएम बघेल ने कहा, राज्य सरकार (Government) राम वन गमन मार्ग को पर्यटन स्थल के रूप में विकसित कर रही है ताकि इसे राष्ट्रीय और अंतराष्ट्रीय स्तर पर प्रसिद्ध किया जा सके. बघेल ने यह भी कहा कि चंदखुरी में मंदिर का निर्माण अगस्त में ही शुरू होगा. ट्विटर पर तस्वीरें शेयर करते हुए सीएम ने कहा कि इसके लिए ब्लू प्रिंट तैयार हो चुका है. उन्होंने अधिकारियों को तालाब पर एक पुल और सभी सुविधाओं से युक्त धर्मशाला और शौचालय आदि का निर्माण करने को कहा है.

माना जाता है कि दक्षिण भारत जाने के लिए भगवान राम ने इन्हीं रास्तों का इस्तेमाल किया था. इन स्थानों में सितामढ़ी-हरचौका (कोरिया), रामगढ़ (अंबिकापुर), शिवरीनारायण (जंजगिर-चंपा), तुरतुरिया (बलोदाबाजार), चंदखुरी (रायपुर), राजिम (गारीबंद), सिहावा-सप्तऋषि आश्रम (धमतरी), जगदालपुर (बस्तर), रामारम (सुकमा) शामिल हैं. पर्यटन विभाग ने इन नौ स्थानों को 137.45 करोड़ रुपए में विकसित करने का प्लान बनाया है.

Please share this news