ब्रिटेन में पाकिस्तानी मूल के लोगों को कोरोना का सबसे ज्यादा खतरा


लंदन . ब्रिटेन में कोरोना के पाकिस्तानी नागरिकों पर प्रभाव को लेकर एक अध्ययन सामने आया है. अध्ययन के अनुसार ब्रिटेन में ब्रिटिश आबादी के मुकाबले पाकिस्तानी मूल के लोगों में कोरोना का कहीं ज्यादा खतरा है. रिपोर्ट में सामने आया कि ब्रिटिश ब्लैक अफ्रीकन और ब्रिटिश पाकिस्तानियों में बाकी आबादी से मरने वालों की संख्या 2.5 गुनी ज्यादा है. इसमें पाक मूल के कई डॉक्टर्स, नर्स (Nurse) और मेडिकल स्टाफ की कोरोना (Corona virus) से मौत हो गई है.

  सुप्रीम कोर्ट में शारजील इमाम की याचिका पर सुनवाई, सॉलिसिटर जनरल ने मांगा जबाव

रिपोर्ट के मुताबिक,कोविड19 संकट का प्रभाव सभी जातियों, समुदायों पर समान रूप से नहीं है. इसमें बताया कि गया है कि ब्लैक कैरिबियन आबादी में कोविड19 से मौत सबसे अधिक है और ब्रिटिश बहुसंख्य आबादी से तीन गुनी है. वहीं, अन्य अल्पसंख्यक समूहों पाकिस्तानियों और ब्लैक अफ्रीकन में मौत की संख्या बाकी ब्रिटिश आबादी के मुकाबले अधिक है, जबकि बांग्लादेशियों की मौत की दर कम है. आंकड़ों की बात करें तो ब्रिटेन में कोरोना (Corona virus) से संक्रमित लोगों का आंकड़ा 182,260 है और 28,131 लोगों की मौत हो गई है.

Please share this news