चालू वित्तवर्ष में 11-3 फीसदी घट सकती है दोपहिया वाहनों की बिक्री

नई दिल्ली (New Delhi) . साख निर्धारक एजेंसी इक्रा ने कहा है कि कोरोना (Corona virus) महामारी (Epidemic) के कारण वित्तवर्ष 2020-21 में दोपहिया वाहनों की बिक्री 11-13 प्रतिशत तक घटने का अनुमान है. इक्रा ने अपनी एक रिपोर्ट में कहा कि चुनौतियां बढ़ने की संभावना है. इससे शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों के बाजारों में लोगों के पास खर्चयोग्य धन की कमी होगी और उपभोक्ता मांग घटेगी.

  भारत में कोरोना पर अब भी कंट्रोल नहीं देश में 24 घंटे में 6535 नए केस और 146 मौतें

रिपोर्ट में कहा गया है कि मंदी की हद इस बात से तय होगी कि कोरोनोवायरस का प्रकोप कितना फैलेगा और लॉकडाउन (Lockdown) कब तक जारी रहेगा. बीमारी के फैलने से पहले भी, भारत में बीएस-छह उत्सर्जन मानदंड लागू होने के परिणामस्वरूप 10 से 12 प्रतिशत महंगा पड़ने और वृहद आर्थिक परिदृश्य के बाद वाहन की कीमतों में भारी वृद्धि होने से भारत में दोपहिया वाहनों की मांग सपाट रहने का अनुमान था. इक्रा के उपाध्यक्ष शमशेर दीवान ने कहा कि दोपहिया वाहनों के मूल उपकरण निर्माताओं (ओईएम) का लाभ का मार्जिन वर्ष के दौरान घटकर 11.5-12 प्रतिशत रहने का अनुमान है, जो पिछले वर्ष लगभग 14 प्रतिशत था.

Please share this news