एनटीपीसी ने प्रतिष्ठित CII-ITC Sustainability Award-2019 जीता


नई दिल्ली (New Delhi) . एनटीपीसी लिमिटेड, विद्युत मंत्रालय के अंतर्गत एक केंद्रीय सार्वजनिक उपक्रम और भारत की सबसे बड़ी बिजली उत्पादन कंपनी ने, कॉर्पोरेट उत्कृष्टता श्रेणी के अंतर्गत उत्कृष्ट उपलब्धि के लिए, प्रतिष्ठित सीआईआई-आईटीसी सस्टेनेबिलिटी पुरस्कार 2019 जीता है. साथ ही, कंपनी की सीएसआर श्रेणी में महत्वपूर्ण उपलब्धि के लिए सराहना भी की गई. एनटीपीसी हमेशा ही पावर स्टेशनों के आसपास अपने समुदायों के सतत विकास के लिए प्रयासरत रहता है. इसने अपने प्रमुख सीएसआर कार्यक्रम, जीईएम (गर्ल एम्पावरमेंट मिशन) को अपने पावर स्टेशन के आसपास प्रतिष्ठापित किया है, 4 सप्ताह का आवासीय कार्यक्रम, वंचित पृष्ठभूमि से आनेवाली और स्कूल जानेवाली लड़कियों को लाभ पहुंचाकर उनके समग्र विकास को समर्थन प्रदान करने के लिए.

  Ram Mandir Bhumi Poojan: भूमिपूजन कार्यक्रम में हिस्सा नहीं लेने वाले परासरण और प्रयागराज के वासुदेवानंद महाराज

एनटीपीसी द्वारा ठेकेदार श्रम सूचना प्रबंधन प्रणाली (सीएलआ ) की भी शुरुआत की है, जिसके माध्यम से ठेका श्रमिकों को परियोजना स्थलों पर महीने के अंतिम दिन भुगतान किया जाता है. सीआईआई-आईटीसी सस्टेनेबिलिटी पुरस्कार, निरंतरता में उत्कृष्ट प्रथाओं की पहचान करते हैं और उन्हें पुरस्कृत करते हैं. देश में सस्टेनेबिलिटी की पहचान के लिए इसे सबसे विश्वसनीय मंच माना जाता है. 62,110 मेगावाट की कुल स्थापित क्षमता के साथ, एनटीपीसी समूह के पास 70 पावर स्टेशन हैं, जिनमें 24 कोयला, 7 संयुक्त चक्र गैस/ तरल ईंधन, 1 हाइड्रो, 13 नवीकरणीय और 25 सहायक एवं जेवी पावर स्टेशन शामिल हैं.

Please share this news