Wednesday , 28 October 2020

ब्रेन में न्यूरालिंक चिप इंप्लांट कर की जा सकेगी म्यूज़िक स्ट्रीमिंग: एलॉन मस्क


नई दिल्ली (New Delhi) . विश्व प्रसिद्ध उद्योगपति और टेस्ला के संस्थापक एलॉन मस्क पिछले कुछ समय से न्यूरालिंक पर ध्यान केंद्रित कर रहे हैं. न्यूरालिंक कार्पोरेशन एलॉन मस्क की ही कंपनी है जो ब्रेन इंटरफेस में डील करती है. एलॉन मस्क का सपना है कि आने वाले समय में वो इंसान के ब्रेन में चिप डाल कर दिमाग पढ़ सकेंगे और इससे हेल्थ सेक्टर को बदल सकेंगे.

बहरहाल एलॉन मस्क ने कहा है कि न्यूरालिंक इंसान के दिमाग में ब्रेन चिप टेक्नॉलजी के तहत ब्रेन से ही म्यूजिक स्ट्रीम करने का ऑप्शन देगा. ब्रेन में ही म्यूजिक स्ट्रीमिंग किस तरह से संभव होगी, फिलहाल इसके बारे में उन्होंने विस्तार से नहीं बताया है. एलॉन मस्क ने माइक्रोब्लॉगिंग वेबसाइट ट्विटर पर एक रिप्लाई में कहा है कि न्यूरालिंक इंप्लिमेंट करने के बाद अपने चिप से डायरेक्ट म्यूज़िक सुने जा सकेंगे. एलॉन मस्क ने पिछले साल ही इस टेक्नॉलजी को शोकेस किया था. इसके बारे में विस्तार से आप यहां पढ़ सकते हैं. म्यूज़िक के अलावा दिमाग़ में लगाई लगाई जाने वाली इस चिप के ज़रिए इंसान अपने हॉर्मोन्स का लेवल भी कंट्रोल कर पाएंगे, ऐसा दावा है टेस्ला फाउंडर एलॉन मस्क का.

ग़ौरतलब है कि एलॉन मस्क का कहना है कि न्यूरालिंक के ज़रिए वो ह्यूमन ब्रेन डिसऑर्डर से लेकर ह्यूमन ब्रेन इन्हैंसमेंट और इसे आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस से मर्ज किया जाएगा. पिछले साल ही एलॉन मस्क ने ब्रेन ऑन चिप को शोकेस किया था और इससे होने वाले फायदों के बारे में बताया था. ये टेक्नॉलजी ख़ास कर कर ऐसे लोगों के लिए फ़ायदेमंद साबित हो सकती है जो बोल नहीं सकते, जिन्हें ब्रेन डिसऑर्डर है या जो पैरालाइज हैं. एलॉन मस्क के मुताबिक न्यूरालिंक के इस चिप को ब्रेन के साथ इंप्मिलेंट करना ज़्यादा मुश्किल नहीं होगा. ऐसा इसलिए, क्योंकि इसे ह्यूमन ब्रेन में लासिक लेजर आई सर्जरी की तरह ही प्रॉसेस से इंप्लिमेंट किया जा सकेगा.

Please share this news