खतरे के बाद भी ऑल इंग्लैंड में खेलती रही सिंधु


नई दिल्ली (New Delhi) . महिला बैडमिंटन स्टार पी वी सिंधु को ऑल इंग्लैंड बैडमिंटन चैम्पियनशिप से हटने का विकल्प मिला था पर सिंधु ने इसके बाद भी देश के लिए वहां खेलना जरुरी समझा. सिंधु के पिता पी वी रमन्ना ने कहा, ‘11 मार्च की रात को जब कोरोना को लेकर परामर्श जारी किया गया उसके अगले ही दिन सुबह कोच पुलेला गोपीचंद ने हमसे कहा कि मैच नहीं खेलते हैं और वापस जाते हैं.’

  मजदूरों के लिए 80 प्रतिशत ट्रेन चलाई गई हैं :रेलवे

उन्होंने कहा, ‘सिर्फ सिंधु, लक्ष्य सेन, सिक्की रेड्डी और अश्विनी पोनप्पा ही दूसरे दौर में थे. हमने खेलने का फैसला किया. विमल ने भी कहा कि खेलते हैं. हम पहले से वहां थे और एक दिन और रूकने से कोई फर्क नहीं पड़ने वाला था.’ सिंधू क्वार्टर फाइनल में हार के बाद बाहर हुई थीं. रमन्ना ने कहा, ‘इंग्लैंड में कोई मास्क नहीं पहन रहा था लेकिन हमने पहने. हमने सारी एहतियात बरती और खाने के समय ही मास्क उतारते थे. हमने लगातार तुलसी के पत्तों का गर्म पानी पीया.’ वापसी के बाद हम दोनो सेहत की सुरक्षा को देखते हुए परिवार और करीबियों से अलग-थलग रह रहे हैं.

Please share this news