मेक्सिको ने 65 शरणार्थी केंद्रों से 3,653 लोगों को वापस लौटाया


मेक्सिको सिटी . कोविड19 के प्रकोप की रोकथाम के मद्देनजर मेक्सिको ने 3,653 लोगों को ग्वाटेमाला, एल सल्वाडोर और होंडुरास लौटाकर देश भर में मौजूद अपने 65 शरणार्थी निरोध केंद्रों को लगभग खाली कर दिया है. राष्ट्रीय आव्रजन संस्थान ने रविवार (Sunday) को यह जानकारी दी और कहा कि यह कदम भीड़-भाड़ वाले इन केंद्रों में कोविड-19 (Kovid-19) के प्रकोप से बचने के लिए उठाया गया है.

  झुलसाती गर्मी से 24 घंटे तक राहत के आसार नहीं, आगे बढ़ा दक्षिण पश्चिम मानसून

संस्थान ने एक बयान में कहा कि केंद्रों में केवल 106 शरणार्थी हैं जबकि इन केंद्रों की असल में क्षमता 8,524 शरणार्थियों को रख सकने की है. हालांकि मार्च में भी यहां बेहद कम संख्या में शरणार्थी थे. कुछ समय पहले इनमें भीड़-भाड़ होने और गंदगी होने की शिकायतें आ रहीं थी. विभिन्न शरणार्थी अधिकारों एवं अंतरराष्ट्रीय समूहों ने मेक्सिको से मध्य अमेरिकी शरणार्थियों को रिहा करने की अपील की थी ताकि कोरोना (Corona virus) के प्रकोप से बचा जा सके.

  हाईकोर्ट ने प्रेस काउंसिल ऑफ इंडिया से मांगा जवाब

मेक्सिको ने संयुक्त राष्ट्र एजेंसियों की ओर से जारी नीतियों का पालन करते हुए 21 मार्च से इन निरोध केंद्रों को खाली करना शुरू कर दिया था लेकिन ग्वाटेमाला, होंडुरास और एल सल्वाडोर की सरकारों की तरफ से सीमाएं बंद करने के कारण इसमे देरी हुई. संस्थान ने कहा कि शरणार्थियों को लौटाने की इस प्रक्रिया में, मेक्सिको सरकार (Government) ने नाबालिगों, बुजुर्गों, परिवारों, गर्भवती महिलाओं और गंभीर बीमारी के जोखिम वाले शरणार्थियों को प्राथमिकता दी.

Please share this news