Wednesday , 28 October 2020

निजी रेलगाड़ियां चलाने में बड़ी कॉर्पोरेट कंपनियां ने दिखाई दिलचस्पी


पहली प्री-बिड मीटिंग में 16 बड़ी कंपनियों ने हिस्सा लिया

नई दिल्ली (New Delhi) . भारतीय रेलवे (Railway)द्वारा निजी रेलगाड़ियां चलाने की घोषणा के बाद बड़ी कॉर्पोरेट कंपनियां खासी दिलचस्पी दिखा रही हैं. रेलवे (Railway)की ओर से बुलाई गई पहली प्री-बिड मीटिंग में 16 बड़ी कंपनियों ने हिस्सा लिया. भारत सरकार (Government) की 3 पीएसयू से लेकर ऑस्ट्रेलियाई फर्म तक ने रेल पटरियों पर बतौर प्राइवेट प्लेयर ट्रेन चलाने की दिलचस्पी दिखाई है.

रेलवे (Railway)सूत्रों का कहना है कि पहली प्री बिड मीटिंग में तीन पीएसयू आईआरसीटीसी, भेल और राइट्स शामिल हुए. इसके अलावा भारत फोर्ग, बॉम्बारडियर, जीएमआर ग्रुप, गेटवे रेल, वेदांता, मेधा, और आस्ट्रेलियाई कंपनी सीएएफ ने हिस्सा लिया. पहली प्री बिड मीटिंग में टाटा और अडानी बैठक में शामिल नहीं हुए. माना जा रहा था कि पहली प्री बिड की बैठक में ये दोनों कंपनियां शामिल होंगी.

इसके अलावा,स्पाइसजेट, इंडिगो और मेक माई ट्रिप को लेकर भी चर्चा रही, लेकिन बिडिंग प्रक्रिया के पहले पायदान पर ये कंपनियां भी शामिल नहीं थी. जानकारों का कहना है कि प्राइवेट प्लेयर ट्रेन प्रोजेक्ट की अगली प्री बिड मीटिंग 7 अगस्त को होगी. बताते चलें कि भारतीय रेलवे (Railway)ने अपने नेटवर्क पर निजी कंपनियों की यात्री रेलगाड़ियों के परिचालन की अनुमति देने की योजना को औपचारिक रूप से आगे बढ़ाने के लिए इस महीने की शुरुआत में देश भर के 109 जोड़ा रूटों पर 151 आधुनिक यात्री रेलगाड़ियां चलाने के लिए प्रस्ताव आमंत्रित किए हैं.

Please share this news