कोराना पाबंदी से 10 करोड़ किग्रा कम हो सकता है चाय उत्पादन


कोलकाता (Kolkata) . भारत का चाय उत्पादन 21 दिनों तक आने-जाने पर देश व्यापी पाबंदियों के कारण इस वर्ष 10 करोड़ किलोग्राम कम हो सकता है. जानकारी के मुता‎बिक देश में वर्ष 2019 के दौरान लगभग 138.9 करोड़ किलोग्राम चाय का उत्पादन किया था. चाय बोर्ड के अध्यक्ष पीके बेजबरुआ ने बताया ‎कि लॉकडाउन (Lockdown) करना अपरिहार्य था क्योंकि बीमारी के प्रसार को रोकने के लिए कोई अन्य विकल्प नहीं है.

  लद्दाख तनाव: चीनी राष्ट्रपति के बयान के बाद पीएम ने की बैठक

हालांकि देश का चाय उत्पादन प्रभावित होगा और इससे चाय उद्योग पर असर पड़ेगा. उन्होंने कहा कि चाय की पौधों को फिर से उत्पादन के स्तर पर लाने में समय लगेगा. टी बोर्ड के उपाध्यक्ष अरुण कुमार रे ने कहा कि लॉकडाउन (Lockdown) के कारण इस वर्ष उत्पादन में लगभग 10 करोड़ किलोग्राम की कमी होने की संभावना है. इससे चाय कीमतों में वृद्धि हो सकती है. भारतीय चाय संघ (आईटीए) ने कहा कि तालाबंदी के कारण लगभग सभी चाय बागान बंद हैं.

Please share this news