जापान में बढ़े कोरोना के मामले, पीएम कर सकते हैं, 6 महीने के लिए इमरजेंसी की घोषणा

नई दिल्ली (New Delhi) . कोरोना की महामारी (Epidemic) वर्तमान में दुनिया में विकराल रूप ले चुकी है. दुनिया भर में 10 लाख से अधिक लोग महामारी (Epidemic) की चपेट में है. जापान में भी इसका असर दिखना शुरू हो गया है. देश में बढ़ते कोरोना के मामलों को देखकर जापान इमरजेंसी (Emergency) की घोषणा कर सकता है. सूत्रों ने कहा कि प्रधानमंत्री शिंजो आबे मंगलवार (Tuesday) को राष्ट्र को संबोधित कर देश में 6 महीने के लिए इमरजेंसी (Emergency) लगा सकते है, ताकि लोग अपने घरों में रहें. जापान में टोक्यो, ओसाका सहित अन्य क्षेत्रों में कोरोना (Corona virus) का असर ज्यादा दिखा है. आंकड़ों के अनुसार, जापान में सोमवार (Monday) सुबह तक 3000 से अधिक मामले सामने आए हैं, जबकि 85 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं.

  वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड की ओर से सेहरी-इफ्तारी पर विवाद, बजरंग दल की सीईओ को हटाने की मांग

हालांकि, गौर करने वाली बात ये है कि यहां आधे से अधिक मामले पिछले तीन-चार दिनों में आए हैं,इसकारण सरकार (Government) को डर है कि कहीं ये महामारी (Epidemic) फैल ना जाएं. गौरतलब है कि दुनिया में एक पैटर्न देखने को मिला है, जहां देशों में लॉकडाउन (Lockdown) को देरी से लागू किया है, वहां कोरोना का असर देखने को मिला है,इसकारण हर जगह लोगों से घर से बाहर ना निकलने को कहा जा रहा है. गौरतलब है कि दुनियाभर में कोरोना की चपेट में 12 लाख लोग आ गए हैं, जबकि कुल मौत का आंकड़ा 70 हजार छूने को है. अभी तक मौत के मामले में इटली सबसे आगे है, जहां कोरोना के कहर की वजह से 15 हजार से अधिक लोग मर चुके हैं. जबकि अमेरिका में 3 लाख से अधिक लोग कोरोना (Corona virus) से जूझ रहे हैं, वहां भी 9000 से अधिक लोग मर चुके हैं.

Please share this news