कैब कानून के विरोध में जामिया की 5 जनवरी तक छुट्टी, परीक्षाये रद्द


नई दिल्ली (New Delhi) . जामिया मिल्लिया इस्लामिया ने नागरिकता (संशोधन) कानून, 2019 के खिलाफ छात्रों के प्रदर्शन और विश्वविद्यालय परिसर में तनावपूर्ण स्थिति को देखते हुए पांच जनवरी तक छुट्टी की घोषणा कर दी और सभी परीक्षाओं को रद्द कर दिया. विश्वविद्यालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, ‘‘सभी परीक्षाएं स्थगित कर दी गई हैं. आने वाले समय में नयी तारीखों की घोषणा की जाएंगी. 16 दिसम्बर से पांच जनवरी तक छुट्टी घोषित की गई है. विश्वविद्यालय छह जनवरी 2020 से खुलेगा. कानून के विरोध में छात्रों ने शुक्रवार (Friday) को संसद की तरफ मार्च करने का प्रयास किया जिसके बाद पुलिस (Police) और छात्रों में संघर्ष हो गया. इससे विश्वविद्यालय एक तरह से युद्ध क्षेत्र में तब्दील हो गया.

Please share this news
  जेट एयरवेज की दिवाला समाधान प्रक्रिया की तारीख बढ़कर 21 अगस्त