इस साल होंगे 366 दिन, शिवरात्रि 21 फरवरी काे…हिंदू नववर्ष 25 मार्च से

लीप ईयर के चलते फरवरी 29 दिन का रहेगा. हर चार वर्ष बाद आने वाला वर्ष लीप वर्ष या अधिवर्ष कहलाता है. लीप वर्ष में 365 के स्थान पर 366 दिन होते हैं. पृथ्वी को सूर्य का चक्कर लगाने में 365 दिन और लगभग 6 घंटे लगते हैं. इस कारण से प्रत्येक चार वर्ष में एक दिन अधिक हो जाता है. हर 4 वर्ष बाद फरवरी में एक दिन अतिरिक्त जोड़ कर संतुलन बनाया जाता है.

महाशिवरात्रि पर्व 21 फरवरी को मनाया जाएगा. शिवरात्रि पर मकर राशि के चंद्रमा का योग बनता ही है. 59 साल बाद शनि के मकर राशि में होने से व चंद्र का संचार अनुक्रम में शनि के वर्गोत्तम अवस्था में शश योग का संयोग बन रहा है. चंद्रमा मन व शनि ऊर्जा का कारक ग्रह है. शनि व चंद्र मकर राशि, गुरु धनु राशि, बुध कुंभ राशि व शुक्र मीन राशि में रहेंगे. पहले यह स्थिति 1961 में बनी थी.

  भारतीय चिकित्सा पद्धतियों को बढ़ावा देगी सरकार : गहलोत

पुष्कर मेघ करेंगे अच्छी बारिश…

जून में बारिश का आगमन होगा. देश में पुष्कर नामक मेघ वर्षा करेंगे. बुध के स्वामी होने से वर्षा अच्छी होगी. इस साल कुल वर्षा के 20 योग है तथा शीतकाल में 4 बार बारिश होने के आसार है. 18 सितंबर से 16 अक्टूबर तक अश्विन का अधिकमास होगा. इसमें दान-धर्म, कथा आदि श्रवण करना श्रेयस्कर होता है.

  स्वास्थ्य मंत्रालय बोला-देश में रफ्तार हुई धीमी डबलिंग रेट में आई गिरावट

21 जून को होगा सूर्यग्रहण… इस साल दो सूर्यग्रहण होंगे. इनमें से 21 जून को होने वाला सूर्यग्रहण भारत में दिखाई देगा. इस वर्ष दो सूर्यग्रहण होंगे, इनमें से 21 जून का खंडग्रास ग्रहण भारत में दिखेगा. ग्रहण सुबह 10.13 बजे शुरू होगा और दोपहर 1.39 बजे तक रहेगा.

बुधवार (Wednesday) से नववर्ष की शुरुआत, इस बार नाम है प्रमादी

  लगातार दूसरे दिन मिले 6,000 से अधिक कोरोना संक्रमित, चिंता में सरकार, 3,860 लोगों की मौत

25 मार्च से हिंदू नववर्ष की शुरुआत होगी. इस दिन भी बुधवार (Wednesday) है. हिंदू नववर्ष बुधवार (Wednesday) से ही शुरू होंगे. हिंदू नव वर्ष का नाम प्रमादी है. विक्रम संवत 2077 रहेगा. इसी के साथ चैत्र नवरात्र शुरू होगा. इस वर्ष का स्वामी बुध एवं मंत्री चंद्र होगा. चंद्र, बुध के पिता है, केतु, बुध, चंद्र से शत्रु भाव रखता है. 2 अप्रैल को रामनवमी मनाई जाएगी.

Please share this news