आईसीसी टी-20 विश्व कप : फाइनल में हारी भारतीय महिला टीम

ऑस्ट्रेलिया ने पांचवीं बार जीता खिताब, हीली और मूनी का शानदार प्रदर्शन

मेलबर्न . भारतीय महिला क्रिकेट टीम का पहली बार आईसीसी टी-20 विश्व कप जीतने का सपना पूरा नहीं हो पाया है. यहां हुए खिताबी मुकाबले में मेजबान ऑस्ट्रेलियाई टीम ने भारतीय टीम को 85 रनों से हराकर पांचवीं बार यह खिताब जीता है. इस मैच में टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए ऑस्ट्रेलिया ने एलिसी हीली 75 और बेथ मूनी 78 के अर्धशतकों की सहायता से चार विकेट पर 184 रन बनाये. इसके बाद भारतीय टीम को जीत के लिए 185 रनों का लक्ष्य मिला जिसका पीछा करते हुए भारतीय टीम 19.1 ओवरों में 99 रनों पर ही आउट हो गयी.

दीप्ति शर्मा ने सबसे अधिक 33 रन बनाये. वहीं अन्य बल्लेबाज इस बड़े मुकाबले में दबाव का सामना नहीं कर पायीं और एक के बाद एक पेवेलियन लौट गयीं. सलामी बल्लेबाज शेफाली वर्मा 2 रनों पर ही आउट हो गयीं. इसके अलावा अनुभवी बल्लेबाज स्मृति मंधाना 11 और कप्तान हरमनप्रीत कौर 4 रन ही बना पायीं. ऑस्ट्रेलिया की और से मेगन स्कट ने सबसे अधिक 4, जबकि जॉनसन ने 3 विकेट लिए.
इस मैच में पहले बल्लेबाजी करते हुए मेजबान ऑस्ट्रेलियाई टीम ने धमाकेदार शुरुआत की.

  झगड़ा सुलझाने के बहाने बुलाकर किया महिला से दुष्कर्म

उसकी दोनो सलामी बल्लेबाजों हीली 75 और मूनी 78 ने शानदार अर्धशतक लगाया और टीम को बड़े स्कोर तक पहुंचाया. हीली ने 39 गेंद की अपनी पारी में 5 छक्के और 7 चौके लगाये. हीली के आउट होने के बाद मूनी ने रन बनाने जारी रखे और नाबाद 78 रन बनाए. मेजबान टीम ने भारतीय गेंदबाजों को कोई अवसर नहीं दिया. भारत की ओर से शिखा पांडे ने 4 ओवर में ही 52 रन लुटा दिये. वहीं दीप्ति शर्मा ने दो विकेट लेकर 38 रन दिए. दीप्ति के अलावा पूनम यादव और राधा यादव ने 1-1 विकेट लिया पर रनों पर अंकुश नहीं लगा पायीं. पावरप्ले में भी मेजबान टीम ने बिना किसी नुक्सान के 49 रन बटोरे. हीली ने शिखा की तीन गेंदों पर लगातार 3 छक्के लगाये. जब 75 रन के व्यक्तिगत स्कोर पर हीली आउट हुईं तब स्कोर 115 रन था.

  राजगढ़ पुलिस थाने पहुंचे हजारों लोग, जांच की मांग को लेकर बैठे धरने पर, देखें वीडियो

इसके बाद मूनी ने कप्तान मेग लेनिंग 16 के साथ मिलकर ऑस्ट्रेलिया को 150 पार पहुंचाया. यहां कप्तान लेनिंग दीप्ति शर्मा की गेंद पर आउट हो गईं. दीप्ति के इसी ओवर में ऑस्ट्रेलिया ने एश्ले गार्नर का विकेट खो दिया पर इसके बाद भी मूनी ने आक्रामक बल्लेबाजी जारी रखी.

  मुंबई में कंटेनमेंट मुक्त इलाकों में बिकेगी शराब

बड़े लक्ष्य का पीछा करते हुए भारतीय टीम की शुरुआत अच्छी नहीं रही और 18 रन पर उसके 3 अहम विकेट गिर गए. शेफाली खराब शॉट खेलकर पहले ही ओवर में पेवेलियन लौट गयीं. वहीं हेल्मेट पर गेंद लगने की वजह से तानिया भाटिया को रिटायर्ट हर्ट होना पड़ा. इसके बाद जेमिमा रोड्रिग्स भी खाता खोले बिना ही पेवेलियन लौट गयीं. भारतीय टीम को तीसरा झटका मंधाना के रूप में लगा. वह 11 रन बनाकर आउट हो गयीं.

कप्तान हरमनप्रीत एक बार फिर असफल रहीं और 4 रन ही बना पायीं. इसके बाद वेदा कृष्णमूर्ति और दीप्ति शर्मा ने पारी को संभालने का प्रयास किया पर वेदा के 19 रनों पर आउट होने से यह साझेदारी भी टूट गयी. दीप्ति ने सबसे अधिक 33 रन बनाये.

Please share this news