पहली से आठवीं तक के बच्चों को मिला जनरल प्रमोशन, 10 वीं व 12वीं का जनरल प्रमोशन केंद्र की अनुमति के बाद होगा


भोपाल (Bhopal) ( ). मप्र स्कूल शिक्षा विभाग ने भी पहली से आठवीं तक की परीक्षाएं रद कर दी हैं और पहली से आठवीं तक के बच्चों को जनरल प्रमोशन दिया जा रहा है. इस संबंध में विभाग ने पहले ही आदेश जारी कर दिए हैं. पूरा देश 14 अप्रैल तक लॉकडाउन (Lockdown) होने के कारण बोर्ड परीक्षाएं भी स्थगित कर दी गई हैं. कोरोना के कारण मप्र माध्यमिक शिक्षा मंडल (माशिमं) की दसवीं व बारहवीं की परीक्षाएं स्थगित कर दी गई हैं. दसवीं व बारहवीं कक्षा को जनरल प्रमोशन के लिए विभाग केंद्र सरकार (Government) की अनुमति का इंतजार कर रहा है. विभाग की प्रमुख सचिव रश्मि अरुण शमी का कहना है कि अभी सीबीएसई के निर्णय का भी इंतजार कर रहे हैं. अगर मप्र बोर्ड के दसवीं व बारहवीं कक्षा के विद्यार्थियों को जनरल प्रमोशन दिया जाएगा तो आगे उन्हें कॉलेजों में एडमिशन में समस्या होगी.

  4800 युवाओं ने एक साथ #राजस्थानी भासा ने राजस्थान री राजभाषा बणावो के साथ महाराणा प्रताप की भाषा को संवैधानिक मान्यता देने की मांग उठाई

ज्ञात हो कि सीबीएसई बोर्ड में भी दसवीं व बारहवीं और प्रवेश परीक्षाएं भी स्थगित की गई हैं. जहां शिक्षाविदें का भी कहना है कि दसवीं व बारहवीं में जनरल प्रमोशन देना सही नहीं होगा, क्योंकि आगे एडमिशन और नौकरी में समस्या होगी. वहीं बोर्ड परीक्षार्थी भी जनरल प्रमोशन नहीं चाहते हैं. पहली से आठवीं कक्षा तक जनरल प्रमोशन होगा कोरोना के कारण प्रदेश भर में पांचवीं व आठवीं की वार्षिक परीक्षाएं रद कर दी गई हैं. स्कूल शिक्षा विभाग ने आदेश जारी कर यह निर्देश दिए हैं कि 20 मार्च के बाद से दोनों कक्षाओं की आगामी परीक्षाओं को निरस्त किया जाता है. साथ ही अब बच्चों की दोबारा परीक्षा नहीं होगी. पहले ली गई छमाही परीक्षा या प्रतिभा पर्व मूल्यांकन के आधार पर बच्चों की ग्रेडिंग प्रदान कर वार्षिक परीक्षाफल घोषित किया जाएगा.

  मुस्करायी माँ की ममता... इन्दौर में कोविड पॉज़िटिव माँ ने जन्में जुड़वा बच्चे

इसी तरह सरकारी व निजी स्कूलों में पहली से चौथी और छठवीं व सातवीं की परीक्षाएं भी निरस्त की गई हैं और पिछली परीक्षाओं के मूल्यांकन के आधार पर परीक्षाफल घोषित कर अगली कक्षा में प्रोन्नत किया जाए जाएगा. वहीं विभाग ने 9वीं और 11वीं परीक्षा के रिजल्ट को ऑनलाइन घोषित कर दिया है. बोर्ड परीक्षा 20 मार्च से स्थगित होने से दसवीं के दो मुख्य विषय सामान्य अंग्रेजी व हिंदी की परीक्षा बाकी है. वहीं, 12वीं में विज्ञान संकाय में बायोलॉजी, गणित, रसायन, बायोटेक्नोलॉजी और कामर्स संकाय में अर्थशास्त्र व्यावसायिक अर्थशास्त्र के साथ कला संकाय में भी कई विषयों की परीक्षाएं बाकी हैं.

  श्रमिक स्पेशल के यात्री भूख से हुए उग्र, दो स्थानों पर इंजिन पर चढ़ चालकों से की अभद्रता

इस बारे में स्कूल शिक्षा प्रमुख सचिव रश्मि अरुण शमी का कहना है कि दसवीं के आधार पर आगे की कक्षा में जाते हैं. वहीं बारहवीं के बाद आगे करियर की दिशा तय होती है. अगर हम अन्य राज्यों की बोर्ड परीक्षाओं के निर्णय के बिना मप्र बोर्ड के बारे में एकतरफा निर्णय नहीं ले सकते हैं. दसवीं व बारहवीं में जनरल प्रमोशन कर देंगे तो आगे दूसरों राज्यों में एडमिशन और नौकरी में दिक्कत होगी. सीबीएसई बोर्ड का निर्णय भी महत्वपूर्ण है.

Please share this news