लाकडाउन के बाद भी बाबा विश्वनाथ के गर्भगृह जाने की नहीं होगी किसी को इजाजत


वाराणसी . कोविड-19 (Kovid-19) संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन (Lockdown) जारी है. इसी क्रम में सोमवार (Monday) को वाराणसी जिला प्रशासन ने तय किया है कि लॉकडाउन (Lockdown) खुलने के बाद भी आम श्रद्धालुओं को बाबा विश्वनाथ के गर्भगृह में प्रवेश अगले आदेश तक नहीं मिलेगा. लॉकडाउन (Lockdown) खत्म होने के बाद भी गर्भगृह में प्रवेश वर्जित रहेगा. आम श्रद्धालुओं के लिए मंदिर के कपाट खुलने के बाद भी उन्हें सिर्फ झांकी दर्शन ही होगा. इसके लिए बाकायदा सोशल डिस्टेसिंग का पालन करते हुए श्रद्धालुओं को एक मीटर के फासले पर कतारबद्ध खड़ा होना होगा.

  दुनिया के पांच बड़े शहद उत्पादक देशों में शामिल हुआ भारत : तोमर

इसके लिए एक-एक मीटर की दूरी की मार्किग होगी. यही नहीं, लॉकडाउन (Lockdown) के बाद भी श्रद्धालुओं को बाबा की आरती भी आम श्रद्धालु नहीं देख सकते है. वहीं आरती के दौरान मंदिर परिसर में केवल पुजारी, सेवक और कर्मचारी रहने वाले है, जिन्हें सोशल डिस्टेसिंग का पालन करना होगा. मंदिर फिलहाल 3 मई तक बंद है. इसके बाद सरकार (Government) के निर्णय के मुताबिक फैसला लिया जाएगा. काशी विश्वनाथ मंदिर के सीईओ विशाल सिंह ने बताया कि संक्रमण की आशंका पूरी तरह से खत्म होने के बाद ही पूर्व की दर्शन व्यवस्था को आगे फिर से शुरू किया जाएगा.

Please share this news